बिहार में NDA के घटक दलों की सीटों के बारे में जल्द होगी घोषणा : जेडीयू
Advertisement
trendingNow0/india/bihar-jharkhand/bihar503727

बिहार में NDA के घटक दलों की सीटों के बारे में जल्द होगी घोषणा : जेडीयू

बिहार में कुल 40 सीटों को लेकर एनडीए के दलों के बीच सीट बंटवारे पर बनी सहमति के तहत बीजेपी और जेडीयू दोनों दल 17-17 सीटों पर चुनाव लड़ेंगे जबकि छह सीट एलजोपी के लिए छोड़ी गयी हैं. 

फाइल फोटो

पटना: बिहार में सत्ताधारी जनता दल युनाइटेड (जेडीयू) ने सोमवार को कहा कि बिहार में आगामी लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Elections 2019) में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) के तीनों घटक दलों की लोकसभा सीटों के बारे में जल्द ही घोषणा की जाएगी. बिहार में एनडीए के तीन घटक दलों में बीजेपी, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की जेडीयू और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान की एलजेपी है.

जेडीयू के राष्ट्रीय महासचिव (संगठन) और राज्यसभा सदस्य राम चंद्र प्रसाद सिंह ने कहा है कि बिहार में एनडीए के तीनों घटक दल लोकसभा चुनाव में किन-किन सीटों पर लड़ेंगे, इसपर चर्चा हो रही है और जल्द ही इसकी घोषणा की जाएगी. 

बिहार में कुल 40 सीटों को लेकर एनडीए के दलों के बीच सीट बंटवारे पर बनी सहमति के तहत बीजेपी और जेडीयू दोनों दल 17-17 सीटों पर चुनाव लड़ेंगे जबकि छह सीट एलजोपी के लिए छोड़ी गयी हैं. वहीं, राज्य में राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) नीत महागठबंधन विपक्ष की भूमिका में है. इसमें आरजेडी, कांग्रेस, राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा), हिंदुस्तान आवाम मोर्चा (हम) के साथ-साथ शरद यादव और मुकेश सहनी का पार्टी शामिल है. 

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, आरजेडी के महागठबंधन में 40 में से 37 सीटों पर तो सहमति बन गई है, लेकिन तीन पर पेंच फंसा हुआ है. अगर इन तीनों सीटों पर घटक दलों में आपसी सहमति नहीं बनती है तो महागठबंधन बिखर सकता है. कहा जा रहा है कि सीट बंटवारे को अंतिम रूप देने में मुंगेर, मधेपुरा और दरभंगा सीट को लेकर पेंच फंसा हुआ है. कांग्रेस मोकामा के विधायक अनंत सिंह को मुंगेर सीट से चुनाव लड़ाने के पक्ष में है, जबकि आरजेडी पहले ही अनंत सिंह को 'बैड एलिमेंट' करार दे चुके हैं. वह अनंत सिंह के महागठबंधन में शामिल करने के खिलाफ हैं.

वहीं, दरभंगा को लेकर भी महागठबंधन में पेंच फंसा हुआ है. बीजेपी से निलंबित नेता और सांसद कीर्ति आजाद अब कांग्रेस का 'हाथ' थाम चुके हैं. इसके बाद कांग्रेस दरभंगा से कीर्ति को उतारना चाह रही है, जबकि महागठबंधन में शामिल विकासशील इंसान पार्टी के प्रमुख मुकेश सहनी इसी सीट से चुनाव लड़ने का मन बना चुके हैं. इसके अलावा मधेपुरा सीट पर भी पेंच फंसा हुआ है. सांसद पप्पू यादव भी कथित तौर पर महागठबंधन का हिस्सा बनने वाले हैं. हाल ही में पप्पू यादव कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात की थी.

(इनपुट भाषा से)