बिहार: कोटा छात्रों को लेकर RJD का संजय झा पर हमला, तो JDU ने कहा कुछ ऐसा...

राजीव रंजन ने कहा है कि, विपक्ष कभी भी राज्य सरकार के किसी भी प्रयास की तारीफ नहीं करता है. कुछ चीजें उनकी संस्कृति और प्रवृत्ति में रची बसी है. उससे वह बाहर नहीं निकल सकते हैं  

बिहार: कोटा छात्रों को लेकर RJD का संजय झा पर हमला, तो JDU ने कहा कुछ ऐसा...
राजीव रंजन ने कहा कि, राज्य सरकार को जिला अधिकारी कोटा के द्वारा सूची उपलब्ध कराई गई थी. (फाइल फोटो)

पटना: बिहार सरकार के मंत्री संजय झा ने ट्वीट कर कहा कि, कोटा से छात्रों को लेकर अंतिम ट्रेन बिहार आ गई है. इस पर बिहार में राजनीति गर्मा गई है. आरजेडी ने कहा है कि, कोटा में अभी भी बच्चे फंसे है. मंत्री ठीक से जानकारी लें, तब इस तरह बयान दें. तो वहीं, जेडीयू ने आरजेडी पर पलटवार किया है.

आरजेडी (RJD) के वरिष्ठ नेता शिवानंद तिवारी ने कहा है कि, संजय झा ने किस आधार पर ट्वीट किया है, इसकी जानकारी नहीं है. लेकिन कोटा (Kota) में अभी भी बच्चे फंसे हुए हैं. शिवानंद तिवारी ने कहा कि, मंत्री को इसकी जानकारी लेने के बाद ही बयान देना चाहिए. क्योंकि जिनके बच्चे अभी भी फंसे हैं, उनके परिवार के लोग काफी चिंता में होंगे और सरकार कह रही है आखिरी ट्रेन है, तो बच्चे कैसे कोटा से आएंगे.

उन्होंने कहा कि, अधिकांश राज्य के बच्चे अपने-अपने घरों के लिए चले गए हैं और वहां की स्थिति अब भूत बंगले जैसी हो गई है. बच्चे तनाव में है और मंत्री जी को चाहिए कि अंतिम रूप से पता कर, जो बच्चे फंसे हैं, उनको भी लेकर आए उसके बाद ऐसे बयान दें.

वहीं, शिवानंद तिवारी के इस बयान पर जेडीयू ने पलटवार किया है. जेडीयू प्रवक्ता राजीव रंजन ने कहा है कि, विपक्ष कभी भी राज्य सरकार के किसी भी प्रयास की तारीफ नहीं करता है. कुछ चीजें उनकी संस्कृति और प्रवृत्ति में रची बसी है. उससे वह बाहर नहीं निकल सकते हैं.

राजीव रंजन ने कहा कि, राज्य सरकार को जिला अधिकारी कोटा के द्वारा सूची उपलब्ध कराई गई थी. उन बच्चों को बिहार लगाया गया है. अगर बच्चे फंसे हुए है तो निश्चित तौर पर राज्य सरकार सभी को लाएगी. विपक्ष को परेशान होने की जरूरत नहीं है.