झारखंड: नीतीश मॉडल के साथ विधानसभा चुनाव में उतरेगी जेडीयू, विपक्ष ने कसा तंज

जेडीयू नीतीश कुमार के विकास के कामों पर चुनाव लड़ेगी और झारखंड की जनता के बीच ले जाएगी. पार्टी का ये मानना है कि झारखंड को विकास के पथ पर ले जाने के लिए नीतीश मॉडल जरूरी है.

झारखंड: नीतीश मॉडल के साथ विधानसभा चुनाव में उतरेगी जेडीयू, विपक्ष ने कसा तंज
जेडीयू नीतीश कुमार के विकास के कामों पर चुनाव लड़ेगी और जनता के बीच ले जाएगी. (फाइल फोटो)

रांची: जेडीयू झारखंड में नीतीश मॉडल को लेकर विधानसभा चुनाव में उतरेगी. जेडीयू नीतीश कुमार के विकास के कामों पर चुनाव लड़ेगी और झारखंड की जनता के बीच ले जाएगी. पार्टी का ये मानना है कि झारखंड को विकास के पथ पर ले जाने के लिए नीतीश मॉडल जरूरी है. लेकिन विपक्ष ने जेडीयू के इस प्लान पर तंज कसा है. विपक्ष का कहना है कि न बिहार में विकास दिख रहा है और न ही देश में.

झारखंड में सारी पार्टियां अपनी अपनी राजनीतिक एजेंडा लेकर चुनावी मैदान में है.जेडीयू चाहती है कि वो नीतीश मॉडल को झारखंड में लेकर जाएं. बिहार में जो 15 वर्षों में नीतीश कुमार ने जो विकास का काम किया है पार्टी उसे झारखंड विधानसभा चुनाव में भुनाना चाह रही है. ताकि जेडीयू का जो राष्ट्रीय पार्टी बनने का सपना है वो पूरा हो सके. 

दूसरी तरफ विपक्ष का कहना है कि एनडीए में सबकुछ ठीक नहीं है. एनडीए में शामिल दल दबाव की राजनीति कर रही है. बिहार में अब सुशासन और विकास की चर्चा कोई नहीं करता . सूबे में अपराध चरम पर है. ऐसे में नीतीश मॉडल झारखंड में कितना सफल हो पाएगा.

वहीं बीजेपी ने कहा जेडीयू या एलजेपी से उनका गठबंधन सिर्फ बिहार में है. झारखंड में रघुवर सरकार ने विकास किया है और जनता बीजेपी को ही दुबारा चुनेगी. 

जेडीयू को उम्मीद है कि इस बार झारखंड में उसे सफलता मिलेगी. वोट का जनाधार बढ़ेगी और नीतीश कुमार का जो सपना है जेडीयू को राष्ट्रीय पार्टी बनाने का उसको बल मिलेगा. जेडीयू कितना सफल हो पाती झारखंड में नीतीश मॉडल को लेकर ये तो चुनाव के नतीजे ही बताएंगे.