साहिबगंज: शांतिपूर्वक चुनाव कराने के लिए बैठक, बिहार, बंगाल के अधिकारी भी हुए शामिल

साहिबगंज जिला का सीमा क्षेत्र बिहार के भागलपुर और कटिहार जिला से सटा हुआ है. वहीं, दूसरी तरफ पश्चिम बंगाल के मालदा और मुर्शिदाबाद जिला के इलाके को भी सीमा छूती है.

साहिबगंज: शांतिपूर्वक चुनाव कराने के लिए बैठक, बिहार, बंगाल के अधिकारी भी हुए शामिल
साहिबगंज में सुरक्षा को लेकर बैठक.

साहिबगंज: झारखंड के साहिबगंज जिला में शांतिपूर्ण तरीके से चुनाव संपन्न कराने को लेकर उपायुक्त वरुण रंजन ने पड़ोसी राज्यों के पदाधिकारियों के साथ समन्वय बैठक की. जिसमें विधानसभा चुनाव को शांतिपूर्ण कराने को लेकर रणनीति तय की गई है.

साहिबगंज जिला का सीमा क्षेत्र बिहार के भागलपुर और कटिहार जिला से सटा हुआ है. वहीं, दूसरी तरफ पश्चिम बंगाल के मालदा और मुर्शिदाबाद जिला के इलाके को भी सीमा छूती है. ऐसे में चुनाव के दौरान असामाजिक तत्वों को रोकना और चुनाव को प्रभावित करने वाले कई कारकों पर नजर बनाए रखना आसान नहीं होगा.

इसको सुनिश्चित करने के लिए साहिबगंज उपायुक्त वरुण रंजन ने पड़ोसी राज्य के सभी जिला के पदाधिकारियों को आमंत्रित कर एक कोआर्डिनेशन बैठक की. जिसमें चुनाव के दौरान शराब, हथियार, पैसे और अन्य ऐसे तत्वों को रोकने की रणनीति तय की गई, जिससे साहिबगंज जिला में चुनाव प्रभावित नहीं हो सके. इसके लिए जिले में 16 चेक पोस्ट बनाए गए हैं. इन चेक पोस्ट पर पड़ोसी राज्य के पदाधिकारियों से भी सहयोग की अपील की गई है.

बैठक के बाद उपायुक्त ने बताया कि अच्छे वातावरण में पड़ोसी राज्य के पदाधिकारियों के साथ बैठक हुई है. साहिबगंज में निष्पक्ष और सुरक्षित चुनाव कराने को लेकर पूरी रणनीति तय हो गई.

साहिबगंज जिले के सीमा क्षेत्रों से सटे बिहार के भागलपुर, कटिहार और पश्चिम बंगाल के मालदा, मुर्शिदाबाद और गोड्डा जिला के पदाधिकारियों के साथ चुनाव को सुरक्षित और शांतिपूर्ण तरीके से कराने को लेकर समन्वय बैठक हुई है, जिसमें कई रणनीति बनाए गए हैं.