झारखंड DGP का दावा- पूजा हत्याकांड का 72 घंटे में होगा उद्भेदन, अंतिम चरण में SIT की जांच

इसी के तहत हजारीबाग और रामगढ़ जिले के क्षेत्र में भी अपराधियों पर लगाम लगाने के लिए कई निर्देश दिए गए हैं. उन्होंने बताया कि रामगढ़ और हजारीबाग के क्षेत्र में अपराधिक गिरोह सक्रिय हैं. उनके खिलाफ कार्यवाही होनी बेहद जरूरी है. 

झारखंड DGP का दावा- पूजा हत्याकांड का 72 घंटे में होगा उद्भेदन, अंतिम चरण में SIT की जांच
झारखंड DGP का दावा- पूजा हत्याकांड का 72 घंटे में होगा उद्भेदन, अंतिम चरण में SIT की जांच.

झुलन/रामगढ़: झारखंड के हजारीबाग के मेडिकल कॉलेज की छात्रा पूजा कुमारी हत्याकांड का उद्भेदन 72 घंटों के अंदर में पुलिस कर देगी. हजारीबाग और रामगढ़ जिले के एसपी के नेतृत्व में स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम की जांच भी अंतिम चरण में है. इस बात का दावा डीजीपी एमवी राव ने किया है. 

शनिवार को वे रामगढ़ पहुंचे थे. यहां उन्होंने डीआईजी अमोल वेणुकांत होमकर, हजारीबाग एसपी कार्तिक एस, रामगढ़ एसपी प्रभात कुमार के साथ बैठक की. उन्होंने पूजा की मौत से जुड़े हुए सारे तथ्यों की जानकारी ली. इसके बाद उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि सारी जांच लगभग पूरी हो चुकी है. टीम ने काफी सारे तथ्य जुटाए हैं. जल्द ही लोगों को सच्चाई पता चल जाएगा. 

डीजीपी ने यह भी बताया कि पूरे झारखंड में स्पेशल ड्राइव चलाया जा रहा है. इसी के तहत हजारीबाग और रामगढ़ जिले के क्षेत्र में भी अपराधियों पर लगाम लगाने के लिए कई निर्देश दिए गए हैं. उन्होंने बताया कि रामगढ़ और हजारीबाग के क्षेत्र में अपराधिक गिरोह सक्रिय हैं. उनके खिलाफ कार्यवाही होनी बेहद जरूरी है. 

इसके अलावा जंगल के क्षेत्र में भी कई नक्सली संगठन अपना पांव पसारने की फिराक में लगे हुए हैं. उनके खिलाफ भी विशेष छापेमारी अभियान चलाई जा रही है. अपराधी कोयले से जुड़े हुए हो या फिर लूट या रंगदारी के मामले में सक्रिय हों, किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा. उन्होंने बताया कि व्यवसायियों को संरक्षण प्रदान करने के लिए पुलिस ने कई कदम उठाए हैं. जल्द ही लोगों को इस क्षेत्र में काफी सुधार दिखाई देगा. 

उन्होंने दावा किया कि झारखंड की जनता की सुरक्षा में पुलिस 24 घंटे मुस्तैद है. अपराधियों को सलाखों के पीछे भेजने के लिए पुलिस रात दिन काम कर रही है.