झारखंडः राज्य सरकार बदलेगी कुम्हार की दिशा और दशा, साहेबगंज में पहल शुरू

झारखंड सरकार राज्य के सभी माटी के कामों से जुड़े लोगों को माटी कला बोर्ड के माध्यम से एक नई दिशा और दशा देने की पहल शुरू की है. 

झारखंडः राज्य सरकार बदलेगी कुम्हार की दिशा और दशा, साहेबगंज में पहल शुरू
कुम्हारों के लिए झारखंड सरकार नई पहल शुरू की है.

पंकज/साहेबगंजः झारखंड सरकार की नई पहल ने जिले के कुम्हार समुदायों में विकास की नई रोशनी दिखा दी माटी कला बोर्ड और उद्योग विभाग के उपनिदेशक का साहिबगंज दौरा ने कुम्हारों में एक उम्मीद जगाई है. अब झारखंड सरकार राज्य के सभी माटी के कामों से जुड़े लोगों को माटी कला बोर्ड के माध्यम से एक नई दिशा और दशा देने की पहल शुरू की है. 

माटी कला बोर्ड के राज्य स्तरीय टीम साहिबगंज के पुरानी साहिबगंज मोहल्ले का दौरा किया. जहां मिट्टी से समान बनाने वालों का समुदाय जिसे कुम्हार कहा जाता है वैसे लोग रहते हैं .उद्योग विभाग के उपनिदेशक और माटी कला बोर्ड के सदस्य ने दौरा किया और इन लोगों के द्वारा बनाए जाने वाले वस्तुओं को देखने के बाद तारीफ की.

उद्योग विभाग के उपनिदेशक जॉर्ज कनगोरिया ने कहा कि साहिबगंज में माटी कला बोर्ड का एक कार्यालय खोला जाएगा जिसके माध्यम से कुम्हार समुदाय के साथ साथ वैसे सभी लोग जो माटी के वस्तु बनाने में लगे हुए हैं उसे सरकार के तरफ से मुफ्त में प्रशिक्षण दी जाएगी.

इसके साथ साथ 80% सब्सिडी में इलेक्ट्रॉनिक चाक दिया जाएगा. जिससे कि उनके कार्य क्षमता में वृद्धि होगी और कम समय में अधिक से अधिक वस्तुओं का निर्माण कर सकेगा माटी कला बोर्ड के टीम का निरीक्षण से कुम्हार समुदाय में एक नई ऊर्जा का संचार हुआ है.

लोग बताते हैं कि सरकार के इस कदम से जहां आज माटी उद्योगों को प्लास्टिक से रोज प्रतिस्पर्धा करनी पड़ती है उस लड़ाई में काफी मदद मिलेगी और जो इस व्यवसाय को छोड़कर जा रहे हैं वैसे लोग इस व्यवसाय से जुड़ेंगे और इसे एक नया रूप मिलेगा सरकार के इस पहल को सभी लोग काफी सराहा रहे हैं.