close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सरायकेला: सीतापुर डैम की सफाई का झारखंड हाईकोर्ट ने दिया आदेश

सरायकेला जिले के आदित्यपुर स्थित सीतारामपुर डैम में 2 मीटर तक जमे गाद को हटाने और डैम की साफ-सफाई मामले को लेकर झारखंड हाईकोर्ट में दायर जनहित याचिका से संबंधित मामले पर कोर्ट ने याचिका पर फैसला सुनाया है. 

सरायकेला: सीतापुर डैम की सफाई का झारखंड हाईकोर्ट ने दिया आदेश
रखंड हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति अनिरुद्ध बोस और न्यायमूर्ति डीएन पटेल की खंडपीठ ने मामले की. (प्रतीकात्मत तस्वीर)

सरायकेला: सरायकेला जिले के आदित्यपुर स्थित सीतारामपुर डैम में 2 मीटर तक जमे गाद को हटाने और डैम की साफ-सफाई मामले को लेकर झारखंड हाईकोर्ट में दायर जनहित याचिका से संबंधित मामले में हाई कोर्ट ने फैसला सुनाया है. 

झारखंड हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति अनिरुद्ध बोस और न्यायमूर्ति डीएन पटेल की खंडपीठ ने मामले की सुनवाई करते हुए पेयजल एवं स्वच्छता विभाग को निर्धारित समय सीमा के भीतर सीतारामपुर डैम के गाद की सफाई करने का निर्देश दिया है.

हालांकि उसके लिए अभी समय सीमा पूरी तरह से निर्धारित नहीं है. इसके लिए विभाग को जिम्मेदारी दी गई है. बता दें कि इस मामले में झारखंड लीगल एडवाइजररी ऑर्गनाइजेशन द्वारा वर्ष 2017 में हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर की गई थी, वहीं ऑर्गनाइजेशन द्वारा दायर जनहित याचिका के बाद ही डैम के क्षतिग्रस्त हो चले स्पिलवे गेट का नए सिरे से निर्माण कार्य किया गया था.

झारखंड लीगल एडवाइजरी ऑर्गनाइजेशन के अध्यक्ष और अधिवक्ता ओमप्रकाश नहीं ने उम्मीद जताया है कि डैम के गाद की साफ सफाई होने के बाद पूरे आदित्यपुर नगर निगम क्षेत्र को बेहतर तरीके से पाइपलाइन से पेयजल आपूर्ति की जा सकेगी.

 गौरतलब है कि वर्ष 1964 में सीतारामपुर डैम का निर्माण कराया गया था उसके बाद आज तक डैम की पूरी साफ सफाई नहीं की गई है, जिससे जल संग्रहण की क्षमता भी घट गई है.