बाल तस्करी के आरोप में झारखंड पुलिस ने लुधियाना से एक व्यक्ति को किया गिरफ्तार

झारखंड पुलिस ने पंजाब के लुधियाना जिले में बाल गृह चलाने वाले एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया.

बाल तस्करी के आरोप में झारखंड पुलिस ने लुधियाना से एक व्यक्ति को किया गिरफ्तार
झारखंड पुलिस ने लुधियाना से बाल तस्करी के आरोपी को गिरफ्तार किया. (प्रतीकात्मक फोटो)

लुधियाना/रांचीः झारखंड पुलिस ने गुरुवार को कहा कि उसने अवैध तस्करी और धर्म-परिवर्तन के सिलसिले में पंजाब के लुधियाना जिले में बाल गृह चलाने वाले एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया. पुलिस ने पखोवाल मार्ग पर एक आश्रय गृह चलाने वाले 58 वर्षीय सत्येंद्र प्रकाश मूसा को कल गिरफ्तार किया.

पुलिस के अनुसार लुधियाना जिले के दोराहा इलाके के एक अन्य आश्रय गृह से चार बच्चों को बचाया गया. इन्हें 20 अगस्त को पखोवाल रोड पर स्थित आश्रय गृह पर छापे के बाद यहां लाया गया था. इसके अलावा बचाए गए चार बच्चे बिहार के निवासी हैं.

लुधियाना के पुलिस आयुक्त सुखचैन सिंह गिल ने बताया कि स्थानीय पुलिस ने मूसा के खिलाफ कोई मामला दर्ज नहीं किया है. जिला बाल कल्याण समिति के प्रमुख जतिंद्र पाल सिंह ने कहा कि प्रारंभिक जांच से पता चला है कि मूसा का पकियाम मर्सी क्रॉस ट्रस्ट 10 वर्षों से ज्यादा समय से इस आश्रय गृह को अवैध रूप से चला रहा था. 

उन्होंने बताया कि जुलाई में, आश्रय गृह को पंजीकरण कराने के लिए समिति ने नोटिस भेजा था. उन्होंने बताया कि उपायुक्त प्रदीप अग्रवाल ने इस मामले में एक विस्तृत जांच का आदेश दिया है.

उन्होंने एक सवाल के जवाब में बताया कि जांच पूरी होने तक यह बता पाना मुश्किल है कि वहां धर्म परिवर्तन कराया जाता था या नहीं. उन्होंने हालांकि बताया कि मूसा बच्चों के नाम पर पैसे इकट्ठा करता था लेकिन उसे वह पारिवारिक खर्च में इस्तेमाल करता था.