झारखंड: अपनी ही बहन को महिला ने 30 हजार में बेचा, CM के आदेश पर 72 घंटों में हुए गिरफ्तार

 झारखंड के गढ़वा जिले में झारखंड के मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन के एक ट्वीट के जरिए आदेश को गंभीरता से लेते हुए गढ़वा पुलिस ने  72 घंटे के अंदर एक महिला को उसके पति और बच्चों को पिता से आखिर मिला ही दिया. 

झारखंड: अपनी ही बहन को महिला ने 30 हजार में बेचा, CM के आदेश पर 72 घंटों में हुए गिरफ्तार

चंदन कश्यप, गढ़वा: झारखंड (Jharkhand) के गढ़वा जिले में झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के एक ट्वीट के जरिए आदेश को गंभीरता से लेते हुए गढ़वा पुलिस ने  72 घंटे के अंदर एक महिला को उसके पति और बच्चों को पिता से आखिर मिला ही दिया. 

दरअसल, गढ़वा में एक बहन ने ही बहन की सौदेबाजी की थी. महज 30 हजार में दो मासूम के साथ बहन को यूपी के गोरखपुर में बहन ने बेच दिया था. पुलिस ने शिकायत के 72 घंटे के अंदर महिला और उसके दो बच्चों को बरामद कर लिया. इस मामले में बहन सहित दो लोग गिरफ्तार हो गए. 

Hemant Soren

गढ़वा जिले के डंडई थाना क्षेत्र के जरही गांव के निवासी सीता राम मिस्त्री ने अपनी पत्नी एवं बच्चों को बेचे जाने का मामला थाने में दर्ज करवाया था और इसकी शिकायत झारखंड के मुख्यमंत्री को ट्विटर के माध्यम से की. मुख्यमंत्री ने तुरन्त इस मामले पर कार्रवाई करने का निर्देश गढ़वा एसपी को दिया था. एसपी ने पुलिस निरीक्षक राजीव कुमार के नेतृत्व में एक टीम गठित कर मामले को जल्द से जल्द उजागर करने की बात कही. 

दरअसल मामला यह था कि सीता राम मिस्त्री की पत्नी देवंती देवी एक वर्ष पहले अपने मायके पलामू के पांडु थाना क्षेत्र में गई थी. उसी वक्त उसकी फुफेरी बहन ममता भी बनारस से पांडु पहुंची थी. ममता ने देवंती को घुमाने के बहाने से बनारस चलने को कहा और वह बहन पर विश्वास कर चली गई. लेकिन बहन उसे पहले कानपुर ले गई और उसे बगल के गांव मुस्करा जिला हमीरपुर उतर प्रदेश में यजपाल विश्वकर्मा को तीस हजार में बेच डाला. 

एक वर्ष बीत जाने के बाद देवंती को लोग यातनाएं देने लगे. इसी बीच एक दिन मौका पा कर देवंती देवी ने अपने पति को फोन कर सारा मामला बताया.  फिर महिला के पति द्वारा किसी के माध्यम से उसकी शिकायत मुख्यमंत्री तक जा पहुंची और मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद एसपी ने 72 घंटे में परिवार को मिला दिया. पुलिस ने बहन को बेचने वाली महिला एवं खरीदने वाले शख्स को गिरफ्तार कर गढ़वा ले आई और जेल भेज दिया गया है.