Jharkhand HC: मानहानि मामले में Rahul Gandhi को राहत, 7 दिसंबर को होगी अगली सुनवाई
X

Jharkhand HC: मानहानि मामले में Rahul Gandhi को राहत, 7 दिसंबर को होगी अगली सुनवाई

रांची के एक अधिवक्ता प्रदीप मोदी ने वर्ष 2019 में स्थानीय सिविल कोर्ट में राहुल गांधी के खिलाफ शिकायत वाद दर्ज कराई थी, जिसमें उनपर लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) के प्रचार अभियान के दौरान मोदी टाइटल वाले व्यक्तियों के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी का आरोप लगाया गया.

 

Jharkhand HC: मानहानि मामले में Rahul Gandhi को राहत, 7 दिसंबर को होगी अगली सुनवाई

Ranchi: मोदी टाइटल वाले लोगों पर की गई एक टिप्पणी से संबंधित मामले में झारखंड हाईकोर्ट (Jharkhand HC) ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के खिलाफ पीड़क कार्रवाई पर रोक के अपने आदेश को अगली सुनवाई तक बरकरार रखा है. 

मोदी टाइटल वाले व्यक्तियों के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी का आरोप 
दरअसल, रांची के एक अधिवक्ता प्रदीप मोदी ने वर्ष 2019 में स्थानीय सिविल कोर्ट में राहुल गांधी के खिलाफ शिकायत वाद दर्ज कराई थी, जिसमें उनपर लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) के प्रचार अभियान के दौरान मोदी टाइटल वाले व्यक्तियों के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी का आरोप लगाया गया.

ये भी पढ़ें- रघुवर दास ने हेमंत सोरेन को दी चुनौती, कहा-'हिम्मत है तो करा लें CBI जांच'

दर्ज है 20 करोड़ रुपए की मानहानि का मामला 
शिकायतकर्ता प्रदीप मोदी ने अपनी शिकायत में कहा है कि राहुल गांधी द्वारा मोदी टाइटल वाले सारे मोदी के खिलाफ टिप्पणी निंदनीय, कष्टकारी और दिल को ठेस पहुंचाने वाली है. उन्होंने राहुल गांधी के खिलाफ 20 करोड़ रुपए की मानहानि का मामला भी दर्ज कराया है, जिसके बाद रांची सिविल कोर्ट (Ranchi Civil Court) ने राहुल गांधी को समन जारी किया था.

7 दिसंबर तक पीड़क कार्रवाई पर रोक
इलके चलते 17 अक्टूबर को राहुल गांधी ने अपने अधिवक्ता के माध्यम से झारखंड हाई कोर्ट में याचिका दाखिल करते हुए समन को रद्द करने अपील की है. इस याचिका पर सुनवाई करते हुए झारखंड हाईकोर्ट के जस्टिस संजय कुमार द्विवेदी की अदालत ने राहुल गांधी के खिलाफ पीड़क कार्रवाई पर रोक के आदेश को अगली सुनवाई तक विस्तार दे दिया है.

ये भी पढ़ें- मजदूरों के साथ हिमाचल में हुई मारपीट का हेमंत सरकार ने लिया संज्ञान, बैकफुट पर आई कंपनी

अगली सुनवाई सात दिसंबर को होगी. झारखंड हाईकोर्ट में इस याचिका पर सुनवाई के दौरान अधिवक्ता पीयूष चित्रेश और दीपांकर रॉय ने अदालत में राहुल गांधी की ओर से पक्ष रखा. 

(इनपुट- आईएएनएस)

Trending news