पलामू में 'बैंक डकैती' का पर्दाफाश, शिकंजे में बैंक लॉकर से करोड़ों के गहने गायब करने वाला डिप्टी मैनेजर

पलामू के यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया के लॉकर से करोड़ों के गहने गायब होने के मामले में बैंक के डिप्टी मैनेजर, ब्रांच मैनेजर समेत 13 लोगों को गिरफ्तार किया गया.

पलामू में 'बैंक डकैती' का पर्दाफाश, शिकंजे में बैंक लॉकर से करोड़ों के गहने गायब करने वाला डिप्टी मैनेजर
पलामू में बैंक लॉकर से करोड़ों के गहने गायब करने वाला गिरफ्तार.

Palamu: पलामू में यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया के लॉकर से करोड़ों के गहने गायब होने के मामले का खुलासा हो गया है. पुलिस ने बैंक के डिप्टी मैनेजर को बैंक लॉकर से गहने उड़ाने के आरोप में गिरफ्तार किया है. जिसने निजी नुकसान की भरपाई के लिए वारदात को अंजाम दिया. 

जिले के मेदिनीनगर के धर्मशाला रोड स्थित यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया के लॉकर से करोड़ों के गहने गायब होने के मामले में पुलिस ने बैंक के डिप्टी मैनेजर प्रशांत कुमार, ब्रांच मैनेजर गन्धर्व कुमार समेत 13 लोगों को गिरफ्तार किया है. जबकि 2 आरोपी अभी भी फरार हैं. पुलिस ने इनके पास से 748 ग्राम सोना और 2150 ग्राम चांदी भी बरामद किया है. इसके अलावा दूसरे बैंक में 647 ग्राम सोना जमा होने की बात भी सामने आयी है. 

ये भी पढ़ें: पार्लर में मिला महिला का शव, दुष्कर्म के बाद हत्या की आशंका से इलाके में फैली सनसनी

पुलिस के मुताबिक बैंक के डिप्टी मैनेजर प्रशांत कुमार ने ही शराब व्यवसाय में 40 लाख रुपये के नुकसान की भरपाई के लिए बैंक लॉकर से गहने उड़ाए थे. पुलिस की जांच में पता चला की बैंक के डिप्टी मैनेजर ने प्रशांत कुमार कुछ लोगों के साथ मिलकर ग्राहकों के बैंक लॉकर को तोड़ा और फिर गहने निकालने के बाद नया लॉक लगा दिया. इस मामले में 14 सितंबर 2021 को कृषि वैज्ञानिक डॉ अशोक सिन्हा ने शहर थाना में केस दर्ज कराया था.

दरअसल, बैंक की शाखा से ग्राहकों के लॉकर से करोड़ों के गहने गायब होने का मामला पिछले दिनों सामने आया था. कृषि वैज्ञानिक डॉ अशोक सिन्हा जब अपना लॉकर खोलने गए, तो उनके पास जो चाभी थी, उससे लॉकर नहीं खुला, बैंक मैनेजर ने लॉकर तोड़वाने के लिए तकनीशियन को बुलाया, जब लॉकर टूटा, तो उसमें सिर्फ चांदी के जेवर थे. सोने के सारे गहने गायब थे. इस खबर के बाद अब तक 7 ग्राहकों के लॉकर से जेवर गायब होने की बात सामने आ चुकी है. 

ये भी पढ़ें: हजारीबाग में नाबालिग से 'हैवानियत', गैंगरेप केस में 3 आरोपी गिरफ्तार, 2 की तलाश  

जानकारी के मुताबिक आरोपी डिप्टी मैनेजर गायब गहनों को स्वर्ण व्यवसायियों के पास गिरवी रखकर उनसे पैसे ले लेता था, और उसने इस सारी करतूत को लॉकडाउन के दौरान अंजाम दिया, जब बैंक में ग्राहक कम आ रहे थे.

(इनपुट: अमित कुमार)