JMM प्रत्याशी का BJP अध्यक्ष पर बड़ा आरोप, कहा- नॉमिनेशन होल्ड करवाने रचा षड्यंत्र

उन्होंने आरोप लगाया कि इस षड्यंत्र के तहत बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ने न सिर्फ उनका टिकट होल्ड पर रखने का खेल खेला बल्कि, नामांकन के बाद स्क्रूटनी में भी उनका नामांकन होल्ड करवाने का राजनितिक षड्यंत्र रचा.

JMM प्रत्याशी का BJP अध्यक्ष पर बड़ा आरोप, कहा- नॉमिनेशन होल्ड करवाने रचा षड्यंत्र
JMM कैंडिडेट ने लगाया आरोप.

चाइबासा: झारखंड के चक्रधरपुर से झारखंड मुक्ति मोर्चा (JMM) प्रत्याशी सह पूर्व विधायक सुखराम उरांव ने भारतीय जनता पार्टी (BJP) प्रत्याशी सह पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुआ पर गंभीर आरोप लगाये हैं. सुखराम उरांव ने साफ कहा है कि उन्हें चुनाव मैदान से बाहर रखने के लिए बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुआ ने षड्यंत्र रचा था.

उन्होंने आरोप लगाया कि इस षड्यंत्र के तहत बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ने न सिर्फ उनका टिकट होल्ड पर रखने का खेल खेला बल्कि, नामांकन के बाद स्क्रूटनी में भी उनका नामांकन होल्ड करवाने का राजनितिक षड्यंत्र रचा.

सुखराम उरांव ने यह बातें चक्रधरपुर में झामुमो के चुनावी कार्यालय के उद्घाटन के बाद कही. इस दौरान अन्य राजनीतिक दलों के कई कार्यकर्ताओं ने झामुमो का दामन भी थामा, जिसका सुखराम ने स्वागत किया. सुखराम ने कहा कि लक्ष्मण गिलुआ को डर था कि सुखराम के चुनाव मैदान में आने से उनकी हार निश्चित है. इसी डर के कारण बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ने अपनी सारी ताकत उन्हें चुनाव मैदान से दूर रखने में लगा दिया था.

सुखराम उरांव ने कहा कि इसबार लक्ष्मण गिलुआ का जमानत जब्त होगा. बीजेपी के लोग भी प्रदेश अध्यक्ष को हराने का काम करेंगे. सुखराम ने लक्ष्मण गिलुआ पर कई गंभीर आरोप लगाए. उन्होंने कहा कि 20 साल के सांसद विधायक काल में गिलुआ ने चक्रधरपुर की जनता के लिए कुछ भी नहीं किया. चक्रधरपुर की जनता से दूर रहे लक्ष्मण गिलुआ. जनता से समपर्क तक तोड़कर रखा. यही कारण रहा कि छह महीने पहले वे लोकसभा चुनाव भी हार गए. इसका जवाब इसबार विधानसभा चुनाव में भी जनता देगी.

झामुमो प्रत्याशी सुखराम ने कहा कि बीजेपी ए टीम, आजसू बी टीम और जेवीएम सी टीम बनकर अलग-अलग चुनाव लड़कर जनता को दिग्भ्रमित कर रही है, लेकिन जनता जागरूक है और इसबार उनकी जीत चक्रधरपुर से निश्चित है.