जेएमएम MLA ने थामा JVM का साथ, कहा- हेमंत सोरेन को मेरा काम करना पसंद नहीं था

जेएमएम MLA ने थामा JVM का साथ, कहा- हेमंत सोरेन को मेरा काम करना पसंद नहीं था

जेएमएम विधायक शशि भूषण सामड ने पार्टी का दामन छोड़ झारखंड विकास मोर्चा का हाथ थाम लिया है. टिकट लेकर चक्रधरपुर पहुंचने पर विधायक के समर्थकों ने उनका भव्य स्वागत किया.

जेएमएम MLA ने थामा JVM का साथ, कहा- हेमंत सोरेन को मेरा काम करना पसंद नहीं था

चक्रधरपुर: झारखंड के चक्रधरपुर के जेएमएम विधायक शशि भूषण सामड ने पार्टी का दामन छोड़ झारखंड विकास मोर्चा का हाथ थाम लिया है. टिकट लेकर चक्रधरपुर पहुंचने पर विधायक के समर्थकों ने उनका भव्य स्वागत किया.

मौके पर बड़ी संख्या में महिला कार्यकर्ता जेवीएम का झंडा- बैनर लेकर स्वागत किया, जेएमएम से टिकट कटने पर विधायक शशि भूषण सामड ने जेएमएम के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन पर निशाना साधते कहा कि हेमंत ने मेरे साथ अन्याय किया है लेकिन मेरे साथ हुए अन्याय का जवाब जनता देगी.

साथ ही उन्होंने कहा कि कहा कि पार्टी ने मुझे विधायक बनाया, सीएनटी एक्ट के विरोध करने पर विधानसभा से तीन माह निलंबित रहा. विपक्ष के राज्यव्यापी बंदी को सफल बनाने के लिए तीन माह जेल में रहा. क्षेत्र के गरीब, जरूरतमंद के लिए हमेशा खड़ा रहा लेकिन अच्छा काम करना हेमंत सोरेन को पसंद नहीं था इसलिए मेरा टिकट काट दिया.

 विधायक ने कहा कि जेएमएम ने सुखराम उरांव को टिकट दिया है, उसकी पत्नी नवमी उरांव जो भाजपा की प्रत्याशी थी उसे हरा कर विधायक बना था, अब सुखराम को हराएंगे, विधायक ने कहा कि उनकी जीत तय है.

Trending news