बिहार में शुरू हुई सियासी कविता की जुगलबंदी, जेडीयू ने तेजस्वी को बताया भ्रष्टाचारी राजकुमार

जेडीयू ने भी कविता के जरिए ही विपक्ष का जवाब दिया. जेडीयू मंत्री नीरज कुमार ने भी कविता के जरिए नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव को भ्रष्टाचारी राजकुमार बताया है. 

बिहार में शुरू हुई सियासी कविता की जुगलबंदी, जेडीयू ने तेजस्वी को बताया भ्रष्टाचारी राजकुमार
बिहार में शुरू हुई सियासी कविता की जुगलबंदी, जेडीयू ने तेजस्वी को बताया भ्रष्टाचारी राजकुमार. (फाइल फोटो)

पटना: बिहार में सियासी कविता की जुगलबंदी शुरू हो गई है. आरजेडी नेता व बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने एक कविता जारी करते हुए वर्तमान सरकार पर निशाना साधा है. उन्होंने बिहार की वर्तमान स्थिति को लेकर एक कविता जारी किया है.

कविता में वर्तमान सरकार के दौरान हुए भ्रष्टाचार, अपराध, मजदूरों की बुरी स्थिति, महंगाई और शराबबंदी के हालात का जिक्र किया है. अब आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने कविता लिख कर सरकार की आलोचना की तो जेडीयू कहां पीछे रहने वाली थी.  

जेडीयू ने भी कविता के जरिए ही विपक्ष का जवाब दिया. जेडीयू मंत्री नीरज कुमार ने भी कविता के जरिए नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव को भ्रष्टाचारी राजकुमार बताया है. 

कविता में उन्होंने कहा कि तेजस्वी यादव बिहार की विपदा में फरार हैं और उनको राज में घोटाला बेसुमार है, इसका जिक्र है. जेडीयू नेता ने लालू परिवार पर अपराधियों का सरदार होने का आरोप लगाया है. 

वहीं आरजेडी के शासन में नरसंहार का भी जिक्र है. उन्होंने कहा कि बिहार में एक ऐसा राजकुमार है जो सत्ता पाने को बेकरार है लिखा गया है.

बता दें कि बिहार में इस साल विधानसभा चुनाव होने थे लेकिन कोरोना संक्रमण के कारण जारी लॉकडाउन और नुकसान के चलते फिलहाल यह काफी मुश्किल लग रहा है. ऐसे में बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने पिछले दिनों डिजिटल इलेक्शन कराने का प्रस्ताव रखा था. उसी के बाद से बिहार में सियासी पारा फिर से चढ़ने लगा है.