जेवीएम के बीजेपी में विलय का प्रस्ताव पारित, 17 फरवरी को होगी बाबूलाल की 'घरवापसी'

17 फरवरी को प्रभात तारा मैदान में भव्य कार्यक्रम में जेवीएम का विलय बीजेपी में होगा. उन्होंने बताया कि इस कार्यक्रम में गृहमंत्री अमित शाह और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा भी शिरकत करेंगे.

जेवीएम के बीजेपी में विलय का प्रस्ताव पारित, 17 फरवरी को होगी बाबूलाल की 'घरवापसी'
जेवीएम कार्यसमिति बैठक में पारित हुआ बीजेपी में विलय का प्रस्ताव, 17 फरवरी को होगी मरांडी की घरवापसी.

सौरव कुमार/रांची: झारखंड में जेवीएम के बीजेपी में विलय का रास्ता अब बिल्कुल साफ हो गया है. 11 फरवरी को जेवीएम की कार्यकारिणी बैठक के बाद बाबूलाल मरांडी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर यह साफ कर दिया कि पार्टी 17 फरवरी को बीजेपी में विलय करने जा रही है. पार्टी कार्यसमिति की इस बैठक मे कुल तीन प्रस्ताव पारित किए गए.

बैठक के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए जेवीएम प्रमुख बाबूलाल मरांडी ने कहा कि आज के कार्यसमिति में सर्वसम्मति से बीजेपी में विलय का प्रस्ताव पारित हुआ. 17 फरवरी को प्रभात तारा मैदान में भव्य कार्यक्रम में जेवीएम का विलय बीजेपी में होगा. उन्होंने बताया कि इस कार्यक्रम में गृहमंत्री अमित शाह और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा भी शिरकत करेंगे.

इसके अलावा उन्होंने यह भी कहा कि इस विलय कार्यक्रम में केंद्रीय उपाध्यक्ष ओम प्रकाश माथुर भी रहेंगे. बाबूलाल मरांडी ने बीजेपी के सांसद और विधायकों से आग्रह करते हुए कहा कि वह भी विलय कार्यक्रम में शामिल हों. पार्टी जो भी जिम्मेदारी देगी, वह उसे निभाने के लिए तैयार होंगे.

इसके अलावा प्रदीप यादव से जुड़े सवाल पर उन्होंने कहा कि घर से किसी को भी निकाला जाता है तो स्वभाविक होता है कि उन्हें बुरा लगता है. प्रदीप यादव भी इसलिए ही बोल रहे हैं. बता दें कि जेवीएम की इस कार्यसमिति बैठक में तीन प्रस्ताव पारित किए गए जिसमें पहला प्रस्ताव जेवीएम का बीजेपी में विलय करना था.

इसके बाद 21 जनवरी को पार्टी से निष्कासित किए गए विधायक बंधु तिर्की के निष्कासन पर सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित किया गया. बता दें कि झारखंड की राजनीति में पिछले कई दिनों से यह चर्चा उठ रही थी कि बाबूलाल मरांडी घरवापसी कर सकते हैं. आखिरकार इसका रास्ता अब साफ कर दिया गया है.