close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बांकाः 54 किलोमीटर कांवरिया पथ पर नहीं बिछा बालू, खर्च किए गए 3.39 करोड़ रुपये

श्रावणी मेला शुरू होने में दो दिन बाकी रह गया है. लेकिन बांका जिले से गुजरने वाले कांवरिया पथ का काम पूरा नहीं किया गया है.

बांकाः 54 किलोमीटर कांवरिया पथ पर नहीं बिछा बालू, खर्च किए गए 3.39 करोड़ रुपये
बांका से गुजरता है 54 किलोमीटर कांवरिया पथ.

बांकाः विश्व प्रसिद्ध देवघर श्रावणी मेला शुरू होने में दो दिन बाकी रह गया है. लेकिन बांका जिले से गुजरने वाले कांवरिया पथ का काम पूरा नहीं किया गया है. बांका जिले से 54 किलोमीटर कांवरिया पथ गुजरता है. कांवरियों के दिक्कत न हो इसके लिए रोड पर दलदल न हो इसके लिए बालू बिछाने का काम किया जा रहा है. लेकिन यह काम अब तक पूरा नहीं हुआ है.

बालू बिछाव का कार्य काफी समय से चल रहा है लेकिन बांका के 54 किलोमीटर कांवरिया पथ पर यह काम पूरा नहीं हो पाया है और श्रावणी मेला शुरू होने में महज दो दिन बाकी रह गए हैं. 54 किलोमीटर पर बालू बिछाने के लिए सरकार ने 3.39 करोड़ रुपये खर्च किए हैं.

बताया जा रहा है कि इस काम से जुड़े लोगों ने अपनी अभिरूची नहीं दिखाई है. और काम के लिए दिए गए करोड़ों रुपये का बंदर बांट किया गया है. पूर्व जिला पार्षद मीठन यादव ने कहा प्रत्येक वर्ष कांवरिया के नाम पर राशि का बंदरबांट होता है. इस बार भी संवेदक व अधिकारी के मिलीभगत से लूट मचा है.

अनुमंडल पदाधिकारी मनोज कुमार चौधरी ने श्रावणी मेला की तैयारी का निरीक्षण किया. इस मौके पर कांवरिया पथ पर बिछाए जा रहे बालू की स्थिति काफी खराब रहने पर 9 संवेदक को फटकार लगाते हुए बालू चालकर बिछाने का निर्देश दिया.

वही कई जगह मिट्टी युक्त बालू दे देने के कारण श्रावणी मेला में उन जगहों पर कीचड़ होने की संभावना को लेकर संवेदक को मिट्टी युक्त बालू हटाने का निर्देश दिया गया.