लखीसराय: किऊल महोत्सव का हुआ शानदार आगाज, कुंआरी कन्याओं ने निकाली कलश यात्रा

 किऊल महोत्सव के दौरान रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों की भी प्रस्तुति होगी. बाहर से कलाकार भी कार्यक्रम में शामिल होंगे और भक्तिमय संगीतों से श्रोताओं को मंत्रमुग्ध करने का प्रयास किया जाएगा. उन्होंने बताया कि जिला प्रशासन ने सूचित किया है कि जल्द ही किऊल महोत्सव को राजकीय दर्जा दिया जाएगा.

लखीसराय: किऊल महोत्सव का हुआ शानदार आगाज, कुंआरी कन्याओं ने निकाली कलश यात्रा
लखीसराय में किऊल महोत्सव का शानदार आगाज.

भागलपुर: बिहार के लखीसराय में दो दिवसीय किऊल महोत्सव का आज शानदार आगाज हुआ है. इस महोत्सव की शुरुआत भव्य शोभायात्रा में निकलीं आकर्षक झांकियों के साथ की गई. कार्यक्रम का उद्घाटन जिला परिषद् अध्यक्ष रामशंकर शर्मा, एसडीपीओ रंजन कुमार, सूर्यगढ़ा के पूर्व विधायक प्रेम रंजन पटेल ने किया. 

केआरके मैदान से माथे पर कलश लेकर निकली सैकड़ों कुंवारी कन्याओं ने शहर भ्रमण किया। इस दौरान लोगों में खासा उत्साह देखा गया. यह हर वर्ष आयोजित किया जाता है.

किऊल महोत्सव के संरक्षक सुबोध कुमार ने कहा कि यह कोई सामान्य कार्यक्रम नहीं है. भारत बहुधार्मिक, बहु-सांस्कृतिक, बहु-भाषाई देश है. हजारों वर्षों से हमने अपनी सांस्कृतिक अक्षुण्ण्ता को बनाए रखा है. यह कार्यक्रम भी उसी सांस्कृतिक अक्षुण्ण्ता को बनाए रखने का एक प्रयास है. इस प्रयास में जिन-जिन लोगों ने अपना योगदान दिया है, वे धन्यवाद के पात्र हैं.

बता दें कि किऊल महोत्सव के दौरान रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों की भी प्रस्तुति होगी. बाहर से कलाकार भी कार्यक्रम में शामिल होंगे और भक्तिमय संगीतों से श्रोताओं को मंत्रमुग्ध करने का प्रयास किया जाएगा. उन्होंने बताया कि जिला प्रशासन ने सूचित किया है कि जल्द ही किऊल महोत्सव को राजकीय दर्जा दिया जाएगा.