बिहार: RJD ने दोहराई रामाश्रय कुशवाहा की CBI जांच की मांग, जानिए वजह...

आलोक मेहता ने कहा कि, बिहार में अपराधी खुलेआम घूम रहे हैं और पुलिस कुछ नहीं कर रही है. रामाश्रय कुशावाहा के मामले में जेडीयू विधायक पप्पू पांडेय का हाथ है और सरकार उन्हें बचाने का प्रयास कर रही है.

बिहार: RJD ने दोहराई रामाश्रय कुशवाहा की CBI जांच की मांग, जानिए वजह...
बिहार: RJD ने दोहराई रामाश्रय कुशवाहा की CBI जांच की मांग, जानिए वजह...

पटना: बिहार की मुख्य विपक्षी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल (RJD) ने एक बार फिर गोपालगंज में पेट्रोल पंप व कोल्ड स्टोरेज व्यवसायी रामाश्रय कुशवाहा की हत्या के मामले में सीबीआई (CBI) जांच की मांग की है. आरजेडी के प्रधान महासचिव आलोक मेहता ने कहा कि, बिहार की नीतीश कुमार (Nitish Kumar) सरकार रामाश्रय कुशवाहा की हत्या का मामला सीबीआई को सौंपकर जांच कराए.

आलोक मेहता ने आरजेडी विधायक रविंद्र सिंह और विधायक सुनील कुशावाहा के साथ संयुक्त प्रेस वार्ता के दौरान सोमवार को कहा कि, बिहार में अपराधी खुलेआम घूम रहे हैं और पुलिस कुछ नहीं कर रही है. उन्होंने कहा कि, रामाश्रय कुशावाहा के मामले में जेडीयू विधायक पप्पू पांडेय का हाथ है और सरकार उन्हें बचाने का प्रयास कर रही है.

मेहता ने कहा कि, बिहार में कुशवाहा समाज के लोगों की लगातार हत्या की जा रही है. उन्होंने कहा कि, अगर जल्द ही रामाश्रय कुशवाहा के मामले में हत्यारों की गिरफ्तारी नहीं तो, आरजेडी आंदोलन करेगी. दरअसल, बीते साल जून के महीने में कुछ अपराधियों ने रामश्रय कुशवाहा की हत्या कर दी थी.

CID से हुई थी जांच
इस मामले में आरजेडी का कहना है कि, इस हत्याकांड में बाहुबली विधायक पप्पू पांडेय की मुख्य रूप से संलिप्ता है. पार्टी का आरोप है कि, सरकार विधायक को बचाने का प्रयास कर रही है. हालांकि, नीतीश कुमार सरकार ने उस वक्त मामले की जांच सीआईडी (CID) से करवाई थी और कुछ लोगों की गिरफ्तारी भी हुई थी. लेकिन आरजेडी का कहना है कि, मामले की जांच ठीक तरीके से नहीं हुई है, इसलिए सरकार सीबीआई से दोबारा जांच करवाए.

'JDU MLA को बचा रही सरकार'
बता दें कि, विधायक पप्पू पांडेय का नाम कुछ महीने पूर्व गोपालगंज में हुए तिहरे हत्याकांड में भी उछला था. उस वक्त भी नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा था कि, बाहुबली विधायक को सरकार बचाने का प्रयास कर रही है.

तेजस्वी ने सदन में उठाया CBI जांच का मु्द्दा
हालांकि, पुलिस ने इस मामले में जेडीयू विधायक के भाई और भतीजे को गिरफ्तार किया था. लेकिन पप्पू पांडेय की गिरफ्तारी नहीं हुई थी. वहीं, बीते दिनों विधानसभा सत्र के दौरान भी तेजस्वी यादव ने मांग की थी कि, बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की कथित आत्महत्या के साथ रामश्रय कुशावाहा के मामले की जांच भी सीबीआई से कराई जाए.

'कुशवाहा वोटबैंक पर निगाह'
वहीं, सूत्रों की मानें तो, बिहार विधानसभा चुनाव के मद्देनजर आरजेडी की निगाह राज्य में कुशवाहा वोटबैंक में सेंध लगाने की है. माना जाता है कि, कुशावाहा समाज का एक बड़ा तबका अभी भी जेडीयू के साथ है और उसका जुड़ाव नीतीश कुमार के साथ ही है.

6 फीसदी है आबादी
बिहार में कुशावाहा समाज की 6 फीसदी आबादी है और ये चुनाव में बहुत मायने रखती है. वहीं, आरजेडी रामाश्रय कुशवाहा के मद्देनजर इस समाज के वौटबैंक में सेंध लगाने की कोशिश कर रही है, ताकि चुनाव में पार्टी को इसका फायदा मिल सके.