close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

झारखंड में कृषि आर्शीर्वाद योजना की शुरुआत, 14 लाख किसानों के खाते में पहुंची राशि

कृषि आर्शीर्वाद योजना की शुरुआत के लिए राजधानी रांची में कार्यक्रम का आयोजन किया गया. जिसके मुख्य अतिथि उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू थे. 

झारखंड में कृषि आर्शीर्वाद योजना की शुरुआत, 14 लाख किसानों के खाते में पहुंची राशि
झारखंड में कृषि आर्शीर्वाद योजना की शुरुआत की गई.

रांचीः झारखंड में 2022 तक किसान की आय को दोगुना करने की दिशा में रघुवर सरकार लगातार प्रयासरत है. उपराष्ट्रपति के हाथों मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना की शुरुआत कर लगभग 14 लाख किसान के खाते में एक क्लिक के साथ डीबीटी से राशि भेज दी गई.

कृषि आर्शीर्वाद योजना की शुरुआत के लिए राजधानी रांची में कार्यक्रम का आयोजन किया गया. जिसके मुख्य अतिथि उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू थे. इस मौके पर उपराष्ट्रपति ने कहा, किसान के हित में काम करना पवित्र काम है. साथ ही कहा देश के किसान संकट में हैं क्योंकि प्रकृति पर निर्भर हैं.

कृषि आशीर्वाद योजना की शुरुआत के मौके पर सूबे के मुखिया रघुवर दास ने राज्य सरकार द्वारा किसानों के लिए चलाए जा रहे योजनाओं को गिनाया. साथ ही मुख्यमन्त्री कृषि आशीर्वाद की राशि दो क़िस्त में किसानों तक पहुंचाने का एलान किया. कृषि आशीर्वाद योजना को किसानों की आय दोगुना करने में मील का पत्थर बताया.

उन्होंने कहा किसान ही देश की अर्थव्यवस्था का मेरुदंड है. इसलिए खाद बीज के लिए साहूकारों के चक्कर न लगना पड़े. इसलिए किसान को कर्ज लेने वाले नहीं बल्कि देने वाले बनाना है.

रघुवर सरकार ने मुख्यमन्त्री कृषि आशीर्वाद योजना की शुरुआत के साथ ही पहले ही दिन 14 लाख किसान के खाते में राशि भेज दी है, जबकि 35 लाख किसान को योजना का लाभ पहुंचाने का लक्ष्य है. खाते में राशि आने से किसान भी काफी उत्साहित हैं. वह राज्य सरकार के कृषि आशीर्वाद योजना की तारीफ कर रहे हैं.

कृषि आशीर्वाद योजना के साथ ही उपराष्ट्रपति ने किसान सारथी रथ को भी रवाना किया जो हर जिले में किसानों के बीच जागरूकता फैलाएगा. पहले दिन 14 लाख किसान के खाते में एक क्लिक के साथ ही राशि भेज दी गयी जबकि हर हफ्ते जैसे जैसे डेटा अपलोड होगा कुल 35 लाख किसान तक योजना का लाभ पहुंचाया जाएगा.