close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

लखीसराय: पहले बाढ़ फिर भीषण बारिश ने बढ़ाई मुश्किलें, घरों में कैद हुए लोग

गंगा नदी का जलस्तर स्थिर बनी हुई है. टाल क्षेत्र के लोगों की मुश्किलें दिनों दिन बढ़ती जा रही है. लगातार हो रही बारिश एवं नदी के बढ़ते जलस्तर ने ग्रामीणों की हालत खराब कर दी है.

लखीसराय: पहले बाढ़ फिर भीषण बारिश ने बढ़ाई मुश्किलें, घरों में कैद हुए लोग
टाल क्षेत्र के लोगों की मुश्किलें दिनों दिन बढ़ती जा रही है.

लखीसराय: पिछले पांच दिनों से लगातार हो रही वर्षा से लोगों का जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है. गंगा एवं हरुहर नदी का जलस्तर बढ़ने से आई बाढ़ की त्रासदी क्षेत्र के लोग झेल ही रहे थे. ऊपर से लगातार हो रही बारिश से बाढ़ पीड़ितों की तबाही और बढ़ा दी है. रविवार को भी बिहार के लखीसराय में हरुहर नदी के जल स्तर में पांच इंच की बढ़त देखी गई. 

गंगा नदी का जलस्तर स्थिर बनी हुई है. टाल क्षेत्र के लोगों की मुश्किलें दिनों दिन बढ़ती जा रही है. लगातार हो रही बारिश एवं नदी के बढ़ते जलस्तर ने ग्रामीणों की हालत खराब कर दी है. गांव की गलियों में पानी भर जाने से कहीं आने-जाने में नहीं बनता है. लोग घरों में कैद हो गए हैं. घर के रोजमर्रा समान सहित पशुओं के लिए चारा लाने की भारी समस्या उत्पन्न हो गई है.

 

एसडीएम मुरली प्रसाद सिंह एवं डीसीएलआर नीरज कुमार ने बड़हिया नगर स्थित किसान भवन में चल रहे बाढ़ राहत शिविर का जायजा लिया. इस दौरान उन्होंने शिविर के लोगों से उनकी समस्याओं को सुना. शिविर में बन रहे भोजन एवं खाद्य सामग्री की जांच की. सामग्री एवं भोजन देखकर पदाधिकारी द्वय संतुष्ट हुए. उन्होंने नपं कर्मियों को राहत शिविर में फिनाइल से साफ-सफाई करने एवं ब्लीचिग पाउडर का छिड़काव करने का निर्देश दिया. 

शिविर में रह रहे लगभग 50 बच्चों को शाम से प्रति बच्चे दो सौ एमएल के हिसाब से दूध दिया जाएगा. बाढ़ पीड़ितों के द्वारा पशुओं के लिए चारा की मांग करने पर एसडीओ श्री सिंह ने कहा कि एक दो दिन के अंदर उसका भी व्यवस्था हो जाएगा. इधर प्रखंड के गांव सहित नगर क्षेत्र के विभिन्न वार्डों में बाढ़ की समस्या बनी हुई है. इंद्रपुरी बराज से छोड़े गए लगभग तीन लाख क्यूसेक पानी से एक बार फिर गंगा नदी का जल स्तर बढ़ जाने का खतरा लोगों को सताने लगा है. 

जल स्तर बढ़ने पर एसडीओ श्री सिंह ने बताया कि कुछ पानी और बढ़ेगा. लेकिन स्थिति जल्द ही सामान्य हो जाएगी. लोगों से अपील करते हुए कहा कि छोटे छोटे बच्चों को बाढ़ के पानी के नजदीक नहीं जाने दें. स्थिति पर नजर रखी जा रही है. इस मौके पर बीडीओ नीरज कुमार, सीओ रामआगर ठाकुर सहित कई लोग उपस्थित थे.