चारा घोटाला: लालू ने दर्ज कराया बयान, चारदिवारी से बाहर निकलने की दिखी चेहरे पर खुशी

लालू प्रसाद को रांची स्थित राजेंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (रिम्स) से सीबीआई कोर्ट ले जाया गया. उन्हें एस.के. बख्शी की विशेष सीबीआई अदालत में पेश किया गया. 

चारा घोटाला: लालू ने दर्ज कराया बयान, चारदिवारी से बाहर निकलने की दिखी चेहरे पर खुशी
रसे बाद रिम्स की चारदिवारी से बाहर लाया गया तो उनके चेहरे पर मुस्कान साफ दिख रही थी.

रांची: आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव एक अन्य चारा घोटाले में अपना बयान दर्ज कराने गुरुवार को रांची स्थित सीबीआई की विशेष अदालत में पेश हुए. लालू यादव को रांची स्थित राजेंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (रिम्स) से सीबीआई कोर्ट ले जाया गया. उन्हें एस.के. बख्शी की विशेष सीबीआई अदालत में पेश किया गया. चारा घोटा मामला संख्या आरसी 47ए/96 मामले में उनका बयान दर्ज किया गया.

लालू प्रसाद यादव चार घोटाला के चार मामलों में दोषी करार दिए जा चुके हैं. उन्हें 14 साल जेल की सजा सुनाई गई है. लालू प्रसाद चारा घोटाले के छह मामलों में दोषी हैं. इनमें से झारखंड में पांच मामलों में से चार में वे दोषी करार दिए जा चुके हैं. पांचवें मामले की सुनवाई रांची स्थित सीबीआई कोर्ट में चल रही है. 

लंबे अरसे बाद दिखे आरजेडी सुप्रीमो
लालू यादव को लंबे अरसे बाद रिम्स की चारदिवारी से बाहर लाया गया तो उनके चेहरे पर मुस्कान साफ दिख रही थी. उन्हें देखकर लग रहा था कि उनकी सेहत अब पहले से बेहतर है.

कोर्ट परिसर में लगी समर्थकों की भीड़
लालू यादव लंबे समय बाद रिम्स से बाहर निकले थे. समर्थक अरसे से उनकी एक झलक पाने के लिए बेताब थे इसलिए कोर्ट परिसर में बड़ी संख्या लालू यादव के समर्थक पहुंचे. इस दौरान जेल प्रशासन ने रिम्स प्रबंधन से लालू के साथ एक चिकित्सक उपलब्ध कराने का आग्रह किया था जिसे स्वीकार किया गया है और लालू के साथ एक चिकित्सक मौजूद हैं.

डोरंडा मामला है चारा का सबसे बड़ा घोटाला
बहुचर्चित चारा घोटाला के विभिन्न मामलों में डोरंडा ट्रेज़री का मामला सबसे बड़ा स्कैम है. जिसमें तकरीबन 139 करोड़ की अवैध निकासी का आरोप है. मामले में वर्तमान में लालू समेत लगभग 114 आरोपी ट्रायल फेस कर रहे हैं. केस अभी 313 के बयान के स्टेज पर है जिसपर लालू यादव के बयान के लिए आज की तारीख निर्धारित की गई है.