बिहार: 'हम' पार्टी चला रही सदस्यता अभियान, जीतन राम मांझी भी हुए कार्यक्रम में शामिल

मांझी ने बिहार सरकार पर भी निशाना साधा. नीतीश सरकार द्वारा सूखाग्रस्त किसानों को 3000 रुपए दिए जाने को लेकर जीतन राम मांझी ने कहा है कि बाढ़ और सुखाड़ से बिहार में कैसे निजात पाया जा सकता है इस पर ध्यान देना जरूरी है.

बिहार: 'हम' पार्टी चला रही सदस्यता अभियान, जीतन राम मांझी भी हुए कार्यक्रम में शामिल
रविवार कई महिलाओं ने 'हम' का दामन थाम लिया.

पटना: 2020 में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा अपने पार्टी में सदस्यता अभियना चला रही है. रविवार कई महिलाओं ने 'हम'का दामन थाम लिया. 'हम' अध्यक्ष जीतन राम मांझी ने महिलाओं को सदस्यता ग्रहण करवाई.

वहीं, मांझी ने बिहार सरकार पर भी निशाना साधा. नीतीश सरकार द्वारा सूखाग्रस्त किसानों को 3000 रुपए दिए जाने को लेकर जीतन राम मांझी ने कहा है कि बाढ़ और सुखाड़ से बिहार में कैसे निजात पाया जा सकता है इस पर ध्यान देना जरूरी है. उन्होंने कहा कि सूखा और बाढ़ बिहार की एक नियति बन गई है. ऐसी परिस्थिति में सुखाड़ के लिए 3000 दें या 5000 दें हम उसे कोई उत्साहवर्धक चीज नहीं मानते हैं.

 

साथ ही जीतन राम मांझी ने कहा की पिछले महीने 13 तारीख को मुख्यमंत्री ने सर्वदलीय बैठक बुलाई थी उस बैठक में हमने इस बात का जिक्र किया था, लेकिन मुख्यमंत्री ने कहा कि हम गंगा से पानी ले आएंगे और फल्गु नदी में गिरायेंगे. इसमें जितना खर्च लगेगा उससे आधे खर्चे में हम हमेशा के लिए फल्गु नदी में पानी दे सकते हैं. उन्होंने आगे कहा कि टेक्निकल एक्सपर्ट ने कह दिया कि गंगा से पानी लाना काफी मुश्किल है.

सत्तापक्ष पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा की सरकार को इस विषय पर सोचना चाहिए. पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी अब चुनाव मोड में आ गए हैं और ऐसे में सरकार को घेरने का कोई मौका नहीं छोड़ रहे हैं. (Edited By: Saloni)