बिहार विधानसभा में आरक्षण को लेकर हुई बैठक, सोशल डिस्टेंसिंग का बना 'मजाक'

श्याम रजक, जेडीयू विधायक ललन पासवान और आरजेडी विधायक राजेंद्र राम से सोशल डिस्टेंसिंग के बारे में पूछा गया तो वह, मीडिया कर्मियों पर ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने की बात करते दिखे.

बिहार विधानसभा में आरक्षण को लेकर हुई बैठक, सोशल डिस्टेंसिंग का बना 'मजाक'
बिहार विधानसभा में आरक्षण को लेकर हुई बैठक, सोशल डिस्टेंसिंग का बना 'मजाक'.

पटना: लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान आरक्षण (Reservation) के मुद्दे को लेकर बिहार विधानसभा (Bihar Vidhansabha) में शुक्रवार को मीटिंग बुलाई गई थी. विधायक विधानसभा के लॉबी में जुटे थे, जहां इन्होंने सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) की धज्जियां उड़ाई. साथ ही, बाहर प्रदर्शन करते हुए भी सामाजिक दूरी का पालन नहीं किया गया.

इस बैठक में प्रमोशन में आरक्षण को लेकर केंद्र सरकार के रवैये पर चर्चा की गई. इस दौरान बिहार सरकार के मंत्री श्याम रजक ने कहा कि, लगातार प्रधानमंत्री से लेकर देश के कई मुख्यमंत्रियों को इस मामले में पत्र भी लिखा गया है. साथ ही, आज की बैठक में रणनीति तय कर ली गई है, जो लॉकडाउन टूटने के बाद दिखेगा.

वहीं, श्याम रजक, जेडीयू विधायक ललन पासवान और आरजेडी विधायक राजेंद्र राम से सोशल डिस्टेंसिंग के बारे में पूछा गया तो वह, मीडिया कर्मियों पर ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने की बात करते दिखे. बता दें कि, बिहार विधानसभा में आरक्षण को लेकर सर्वदलीय बैठक बुलाई गई थी. बैठक में पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी (Jitan Ram Manjhi) और बिहार सरकार के मंत्री श्याम रजक के अलावा पक्ष और विपक्ष के कई विधायक मौजूद थे.

वहीं, बिहार में कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से फैल रहा है. राज्य के 35 जिलों में कोरोना का संक्रमण फैल चुका है. जानकारी के मुताबिक, राज्य में अब तक 563 कोरोना के मरीज मिले हैं. जबकि 5 कोरोना पीड़ितों की मौत हुई है और 246 मरीज ठीक हो चुके हैं.