कोरोना वायरस के कारण कोर्ट में पसरा सन्नाटा, बचाव के लिए बरती जा रही सावधानी

वकीलों के माध्यम से ही कोर्ट में केस की पैरवी करने का आदेश दिया है और कम से कम मामलों की सुनवाई कोर्ट में की जा रही है. साथ ही साफ-सफाई को लेकर कोर्ट परिसर में फागिंग कराई गई और ब्लीचिंग पाउडर का छिड़काव भी किया गया है.

कोरोना वायरस के कारण कोर्ट में पसरा सन्नाटा, बचाव के लिए बरती जा रही सावधानी
कोरोना वायरस से बचाव के लिए कोर्ट में सावधानी बरती जा रही.

बेगूसराय: बिहार के बेगूसराय में कोरोना वायरस (Coronavirus) के कारण कोर्ट में सन्नटा पसर गया है. पटना उच्च न्यायालय के आदेश के बाद जिला जज हरेंद्र नाथ तिवारी ने कोर्ट में पैरवी के लिए कम से कम लोगों को आने का आदेश दिया है. साथ ही न्यायालय परिसर के दोनों गेट को बंद कर दिया गया है.

वहीं, गेट पर पीएलवी के द्वारा माइकिंग कर लोगों को कोरोना वायरस के बारे में जानकारी दी जा रही है और 31 मार्च तक कम से कम लोगों के आने की अपील की गई है. इसके अलावा किसी भी मुकदमे में पैरवी में नहीं आने पर विरोध में आदेश नहीं निकालने की भी जानकारी दी जा रही है.

जिला जज ने वकीलों के माध्यम से ही कोर्ट में केस की पैरवी करने का आदेश दिया है और कम से कम मामलों की सुनवाई कोर्ट में की जा रही है. साथ ही साफ-सफाई को लेकर कोर्ट परिसर में फागिंग कराई गई और ब्लीचिंग पाउडर का छिड़काव भी किया गया है, ताकि कोरोना वायरस के संक्रमण से बचा जा सके.

बता दें कि बेगूसराय कोर्ट में जहां हजारों लोग सुनवाई के लिए रोजाना आते थे, वहां आज कोर्ट में सन्नाटा पसरा हुआ है. गौरतलब है कि कोरोना वायरस से बचाव के लिए सरकार लगातार एहतियातन कदम उठा रही है. साथ ही लोगों से मास्क और सेनिटाइजर का उपयोग करने की अपील की है.