पटना की सड़कों पर LJP नेताओं ने उड़ाई ट्रैफिक नियमों की धज्जियां, देखती रही पुलिस

न तो किसी ने हेलमेट लगाने की जहमत उठाई और न ही सीट बेल्ट लगाई. तीन-तीन सवारी एक बाइक पर सावर होकर आसानी से सड़कों पर घूमते रहे.

पटना की सड़कों पर LJP नेताओं ने उड़ाई ट्रैफिक नियमों की धज्जियां, देखती रही पुलिस
लोजपा कार्यकर्ताओं ने उड़ाई ट्रैफिक नियमों की धज्जियां.

पटना: लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) के स्थापना दिवस के मौके पर सड़कों पर कानून की खुलेआम धज्जियां उड़ाई गई. इसके बाद कानून के रखवालों के साथ-साथ नेताओं पर भी सवलिया निशान खड़े हो रहे हैं. कल यानी गुरुवार को लोजपा ने अपना स्थापना दिवस मनाया. इसका असर सड़कों पर भी दिखा. बड़े जुलूस के तौर पर एलजेपी कार्यकर्ता सड़क पर उतरे और नियमों की धज्जियां उड़ाई.

न तो किसी ने हेलमेट लगाने की जहमत उठाई और न ही सीट बेल्ट लगाई. तीन-तीन सवारी एक बाइक पर सावर होकर आसानी से सड़कों पर घूमते रहे. इतना ही नहीं, गाड़ी के फ्लोर से नेता बाहर लोगों को हाथ हिलाते हुए उन्हें अपनी मौजूदगी दिखा रहे थे. 

अगर कोई आम आदमी ऐसी गलती करता तो मोटे चालान काटे जाते. लोकिन लोजपा नेताओं की इस जुलूस से ऐसा महसूस हो रहा था कि कानून इन नेताओं के आगे बौना है. राजनीतिक पार्टी ने की इस गलती पर सियासत भी तेज हो गई है.

इसी कड़ी में जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव (Pappu Yadav) ने एलजेपी को आड़े हाथों लिया. पप्पू यादव ने कहा कि लोक जनशक्ति पार्टी के स्थापना दिवस के मौके पर बिहार के लगभग सभी माफिया और अपराधी एक मंच पर देखे गए. जो तस्वीर लोजपा की तरफ से जारी हुई है उसमें सभी माफिया एक साथ दिखाई दे रहे हैं. लोजपा के कार्यकर्ताओं ने किसी भी ट्रैफिक नियम को नहीं माना ये बताता है कि सरकार में रहने पर सभी काम किए जा सकते हैं.

इतना ही नहीं राज्य में बढ़ते अपराध पर पप्पू यादव ने कहा कि जिस राज्य के मुख्यमंत्री शराब और अपनी ब्रांडिंग से बाहर नहीं निकल पाते हैं. वहां अपराधी इसी तरह से तांडव करेंगे. बढ़ते अपराध की न तो नीतीश कुमार को चिंता है और ना ही उनके चाटुकार नेताओं को.