बिहार में 16 से 31 जुलाई तक हो सकता है लॉकडाउन, आज लिया जा सकता है बड़ा फैसला

बिहार में कोरोना संक्रमण लगातार बढ़ रहा है. इसे देखते हुए बिहार सरकार लॉकडाउन को लेकर बड़ा फैसला ले सकती है. पिछले दो दिनों से राज्य में एक हजार से संक्रमितों के मामले आ रहे हैं. 

बिहार में 16 से 31 जुलाई तक हो सकता है लॉकडाउन, आज लिया जा सकता है बड़ा फैसला
बिहार सरकार लॉकडाउन को लेकर बड़ा फैसला ले सकती है.

पटना: बिहार में कोरोना संक्रमण लगातार बढ़ रहा है. इसे देखते हुए बिहार सरकार लॉकडाउन को लेकर बड़ा फैसला ले सकती है. पिछले दो दिनों से राज्य में एक हजार से संक्रमितों के मामले आ रहे हैं, इसे देखते हुए आज मुख्य सचिव की अध्यक्षता में उच्चस्तरीय बैठक होगी. 

आपको बता दें कि अभी भी 15 से ज्यादा जिलों में लॉकडाउन लागू है. इसलिए उम्मीद जताई जा रही है कि संक्रमण को रोकने के लिए सरकार लॉकडाउन पर बड़ा फैसला ले सकती है और 16 से 31 जुलाई तक के लिए लॉकडाउन पूरे राज्य में लागू किया जा सकता है.

आज आपदा क्राइसेस मैनेजमेंट ग्रुप की मीटिंग बुलाई गई है. आपदा प्रबंधन समेत अन्य विभाग के अधिकारियों के साथ मीटिंग होगी. वहीं, कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए पटना में प्रशासन ने राजेंद्र नगर और कंकड़बाग की सब्जी मंडी को बंद कर दिया है. सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं होने की वजह से यह फैसला लिया गया है. मीठापुर सब्जीमंडी को पहले ही बंद कराया जा चुका है. 

वहीं, निजी अस्पतालों में भी कोरोना के इलाज की तैयारी की जा रही है. स्वास्थ्य विभाग ने निजी अस्पतालों से प्रस्ताव मांगा है. कोरोना का इलाज करने के इच्छुक अस्पताल को कई जानकारी देनी होगी.आईसीएमआर की गाइडलाइन के तहत निजी अस्पताल में सुविधा की जरूरत होगी.

अस्पताल में वेंटिलेटर और ऑक्सीजन के बारे में जानकारी देनी होगी. आपको बता दें कि अभी सिर्फ सरकारी अस्पतालों में ही कोरोना मरीजों का इलाज हो रहा है. खुद आईएमए ने भी निजी अस्पतालों में इलाज की मांग की है. कोरोना के बढ़ते मरीजों को देखते हुये स्वास्थ्य विभाग फैसला लेगी. बहरहाल, आज मीटिंग के बाद ही लॉकडाउन को लेकर स्थिति स्पष्ट होगी.