close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

झारखंड : चुनाव आचार संहिता लागू होते ही बाबूलाल मरांडी को मिला कुर्की का वारंट

बाबूलाल मरांडी ने बीजेपी के आरोप पर सफाई देते हुए बताया कि जब पलामू में 2013 लोगों के मकान पर बुलडोजर चल रहे थे, तभी आग लगी थी.

झारखंड : चुनाव आचार संहिता लागू होते ही बाबूलाल मरांडी को मिला कुर्की का वारंट
बाबूलाल मरांडी को मिला कुर्की का वारंट. (फाइल फोटो)

रांची : लोकतंत्र का महापर्व यानी लोकसभा चुनाव का शंखनाद होते ही झारखंड की सियासी में आरोप-प्रत्यारोप की राजनीति भी शुरू हो गयी है. सियासी समर का एलान होते ही पलामू कोर्ट से जेवीएम केंद्रीय अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी को 2013 के एक मामले में कुर्की का वारंट मिला है. बाबूलाल ने इसे भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की सियासी चाल बताया. वहीं, बीजेपी ने आंसू बहाने का आरोप लगाते हुए डोमिसाइल की आग का हिसाब पूछा और दोहरे चरित्र का आरोप मढ़ दिया. 

झारखंड की सियासत में चुनावी ताल के साथ ही सियासी सुर भी सुनाई देने लगा है. बाबूलाल मरांडी ने बीजेपी के आरोप पर सफाई देते हुए बताया कि जब पलामू में 2013 लोगों के मकान पर बुलडोजर चल रहे थे, तभी आग लगी थी.

वीहीं, इस मामले पर बीजेपी प्रदेश प्रवक्ता ने अदालत की कार्रवाई पर टिप्पणी से तो इनकार किया, लेकिन बाबूलाल मरांडी पर दोहरे चरित्र का आरोप मढ़ते हुए सीएम रहते डोमिसाइल की आग में प्रदेश को झोंकने का आरोप लगाया. साथ ही राज्य सरकार के मंत्री ने अदालत के फैसले का सम्मान करने की नसीहत दी है.ऋ

बीजेपी ने बाबूलाल पर ही पलटवार किया तो महागठबंधन में जेवीएम की सहयोगी कांग्रेस ने पुलिस के कार्यप्रणाली पर सवाल उठाते हुए समन नहीं भेजने का आरोप लगाया साथ ही बीजेपी पर भी निशाना साधा है.

अभी तो सिर्फ सियासी समर का शंखनाद भर हुआ है. 14 लोकसभा पर कब्जे की कवायद में आरोप-प्रत्यारोप होने लगे हैं. बाबूलाल ने कुर्की वारंट मिलने पर बीजेपी पर चुनावी चाल बताया तो सियासत तेज हो गयी.

(मदन और सौरभ के साथ कुमार चन्दन की रिपोर्ट)