close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार: मधुबनी के जिला पदाधिकारी ने इलाके के लोगों को बोला 'दरिद्र', मचा सियासी बवाल

 वायरल ऑडियो की वजह से अब सियासी बखेरा खड़ा हो गया है. विनोद कुमार ने एक युवक से फोन पर बातचीत के दौरान इलाके के लोगों को दरिद्र बता दिया. विनोद कुमार का ये ऑडियो वायरल हो रहा है. कांग्रेस ने चेतावनी दी है कि अगर सरकार 24 घंटे में विनोद कुमार पर कार्रवाई नहीं करती है तो कांग्रेस आंदोलन करेगी.

बिहार: मधुबनी के जिला पदाधिकारी ने इलाके के लोगों को बोला 'दरिद्र', मचा सियासी बवाल
वायरल ऑडियो की वजह से अब सियासी बखेरा खड़ा हो गया है.

मधुबनी: बिहार के मधुबनी के जिला सहकारिता पदाधिकारी विनोद कुमार का एक ऑडियो वायरल हो रहा है. वायरल ऑडियो की वजह से अब सियासी बखेरा खड़ा हो गया है. विनोद कुमार ने एक युवक से फोन पर बातचीत के दौरान इलाके के लोगों को दरिद्र बता दिया. विनोद कुमार का ये ऑडियो वायरल हो रहा है. कांग्रेस ने चेतावनी दी है कि अगर सरकार 24 घंटे में विनोद कुमार पर कार्रवाई नहीं करती है तो कांग्रेस आंदोलन करेगी.

मधुबनी जिले में एक अधिकारी का वायरल ऑडियो सियासत के केंद्र में आ गया है. कांग्रेस ने अधिकारी के वायरल ऑडियो को हाथों हाथ ले लिया है. दरअसल खरीफ फसल क्षतिपूर्ति के लिए सरकार की ओर से दी जानेवाली सहायता राशी को लेकर इलाके के एक युवक ने जिले के सहकारिता पदाधिकारी से फोन पर बातचीत की. सहकारिता पदाधिकारी ने डीटीओ से जानकारी लेने की सलाह दी. अधिकारी की ओर से मामले को टालता देख जब युवक ने दुबारा सवाल पूछा तो सहकारिता पदाधिकारी भड़क गए और जो नहीं कहना था वो भी कह डाला. सहकारिता पदाधिकारी ने सवाल पूछनेवाले युवक से नाराज होकर कहा कि, 'ऐसा एक लाख लोग सुबह से शाम तक पूछता है.इ जिला है दरिद्र..सबको सरकार का भीख और अनुदान चाहिए..ये दरिद्र जिला है..यहां लोग जेनउ पहनकर पाखंडी करता रहता है और चोर चारी करता रहता है.'

 

जिला सहकारिता पदाधिकारी के वायरल ऑडियो को विपक्ष ने हाथों हाथ ले लिया है. खासतौर पर इलाके के कांग्रेस नेताओं ने अधिकारी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. कांग्रेस एमएलसी प्रेमचन्द्र मिश्रा ने कहा है कि उन्होंने सरकार के सहकारिता मंत्री से मसले पर बात की है. अगर 24 घंटे में पदाधिकारी पर कार्रवाई नहीं होती है तो कांग्रेस इसे मुद्दा बनाकर आंदोलन करेगी.

इधर अधिकारी के रवैये से रुलिंग पार्टी बीजेपी भी बैकफुट पर नजर आ रही है. पार्टी के प्रवक्ता प्रेमरंजन पटेल ने सभी अधिकारियों के गलत होने की बात को सिरे से खारिज किया है. प्रेम रंजन पटेल ने कहा है कि अधिकारियों को जनता की सुविधा के लिए रखा गया है. उनको जनता के हितों को ध्यान में रखकर ही काम करना होगा. जो अधिकारी जनता के खिलाफ काम करेंगे उनके खिलाफ निश्चित रुप ये सरकार संज्ञान लेगी.