close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मधुबनी: गरीब बच्चों के बीच पहुंचे एसडीएम, शिक्षा के महत्व को लेकर किया जागरुक

बिहार के मधुबनी के जयनगर अनुमंडल पदाधिकारी शंकर शरण ओमी ने आनंदपुर मोहल्ला में महादलित बस्ती के बच्चों के बीच घंटो समय बिताए और उन्हें शिक्षा के महत्व को लेकर जागरूक करने की कोशिश की. 

मधुबनी: गरीब बच्चों के बीच पहुंचे एसडीएम, शिक्षा के महत्व को लेकर किया जागरुक
एसडीएम ने आनंदपुर मोहल्ला में महादलित बस्ती के बच्चों के बीच घंटो समय बिताया.

मधुबनी: बच्चों की शिक्षा के लिए केंद्र और राज्य सरकार ने कई तरह की योजनाएं चलाई है लेकिन फिर भी बिहार में कई ऐसे बच्चे हैं दो शिक्षा से वंचित रह जाते हैं. बिहार के मधुबनी के जयनगर अनुमंडल पदाधिकारी शंकर शरण ओमी ने आनंदपुर मोहल्ला में महादलित बस्ती के बच्चों के बीच घंटो समय बिताया और उन्हें शिक्षा के महत्व को लेकर जागरूक करने की कोशिश की. 

एसडीएम ने बच्चों और उनके अभिवावक को शिक्षा के प्रति जागरुक करते हुए किताब, कॉपी, पेन का वितरण किया. ऐसा पहली बार देखने को मिला की कोई अधिकारी महादलित बस्ती में उनके बीच जाकर उनके दुख दर्द को सुना और अपनी ओर से बच्चों को हर संभव मदद का भरोसा दिलाया.

एसडीएम ने बताया कि जब भी मैं इस इलाके से होकर गुजरता था तो ये एहसास होता था कि आखिर क्या कारण है की इस टोले के बच्चे शिक्षा से वंचित रह रहे हैं. मौके पर उन्होंने अभिवावक से रुबरु हुए और उनका हाल जाना. वहीं लोगों में काफी उत्साह देखा गया. साथ ही बच्चों में भी पढ़न-पाठन की सामग्री मिलने से खुशी दिखाई दिया.

महादलित टोले के बच्चे पूर्व में पढाई के लिए रेलवे लाइन पार कर बस स्टैंड स्थित विधालय में जाते थे. लेकिन रेलवे ट्रैक पर हमेशा हादसे का खतरा रहता है. जिससे कारण अभिवावक अपने बच्चों को स्कूल नहीं भेजते हैं. जिस कारण इस इलाके के बच्चे पढ़ाई नहीं कर पा रहे हैं.  
Pintu Kumar Jha, News Desk