सासाराम: आक्रोश मार्च में शामिल हुआ महागठबंधन, केंद्र-राज्य सरकार को बताया गरीब विरोधी

प्रदर्शन में शामिल कार्यकर्ताओं ने केंद्र तथा बिहार सरकार को गरीब विरोधी बताया. उन्होंने कहा कि आज जनता में आक्रोश है.

सासाराम: आक्रोश मार्च में शामिल हुआ महागठबंधन, केंद्र-राज्य सरकार को बताया गरीब विरोधी
RLSP ने पूरे बिहार में केंद्र और राज्य सरकार की नीतियों के खिलाफ प्रदर्शन किया.

सासाराम: बिहार के सासाराम में बुधवार को राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (RLSP) के  राज्यव्यापी आक्रोश मार्च तथा धरना कार्यक्रम में महागठबंधन (Mahagathbandhan) के सभी घटक दलों ने हिस्सा लिया तथा समाहरणालय पर धरना दिया. 

आरएलएसपी के द्वारा आयोजित इस आक्रोश मार्च में सरकार विरोधी नारे लगाए गए. साथ ही केंद्र और बिहार की नीतीश कुमार (Nitish Kumar) सरकार की नीतियों के खिलाफ प्रदर्शन  किया.

प्रदर्शन में शामिल कार्यकर्ताओं ने केंद्र तथा बिहार सरकार को गरीब विरोधी बताया. उन्होंने कहा कि आज जनता में आक्रोश है. अगर समय रहते सरकार ने जन-समस्या के मुद्दे पर काम नहीं किया, तो यह आक्रोश और बढ़ेगा तथा सरकार को जवाब देना पड़ेगा।.

इस मौके पर राष्ट्रीय जनता दल (RJD)  के प्रदेश अध्यक्ष विजय मंडल ने बताया कि महागठबंधन के लोग एकता में बंधे हैं तथा जनसमस्याओं को लेकर एकजुट होकर लड़ाई लड़ी जा रही है. धरना के बाद महागठबंधन की तरफ से जिलाधिकारी को एक ज्ञापन भी सौंपा गया.

गौरतलब है कि राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के प्रमुख और पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा (Upendra Kushwaha)  ने पूरे बिहार के जिला मुख्यालयों पर प्रदेश की नीतीश कुमार और केंद्र सरकार की नीतियों के खिलाफ प्रदर्शन का ऐलान किया था. उन्होंने कहा था कि इस विरोध प्रदर्शन में महागठबंधन के नेता भी शामिल होंगे. इसी के तहत ये कार्यक्रम आयोजित किया गया.