सहरसा: बगीचे में मिली खून से लथपथ लाश, पारिवारिक विवाद में हत्या की आशंका

मृतक की पहचान सुपौल जिले के बभनगामा गांव निवासी मृत्युंजय झा के रूप में की गई है. पुलिस ने शव के पास से एक झारखंड नंबर की बाइक और चाकू बरामद किया है. 

सहरसा: बगीचे में मिली खून से लथपथ लाश, पारिवारिक विवाद में हत्या की आशंका
सहरसा में मिला खून से लथपथ शव. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

सहरसा: बिहार के सहरसा (Saharsa) में बिहरा थाना क्षेत्र के पुरीख गांव स्थित एक बगीचे से खून से लथपथ एक चालीस वर्षीय व्यक्ति का शव मिलने से पूरे इलाके में सनसनी फैल गई. शव की पहचान छुपाने के लिए चेहरे को बुरी तरह से कुचल दिया गया था. आशंका जाहिर की जा रही है कि किसी ने निर्मम तरीके से गला रेतकर शख्स की हत्या कर शव को बगीचे में फेंक दिया.

मृतक की पहचान सुपौल जिले के बभनगामा गांव निवासी मृत्युंजय झा के रूप में की गई है. पुलिस ने शव के पास से एक झारखंड नंबर की बाइक और चाकू बरामद किया है. 

मृतक के परिजनों का कहना है कि बीती रात मृत्यंजय झा अपने घर से महिषी थाना क्षेत्र स्थित अपने ससुराल के लिए निकले थे. रास्ते में अज्ञात अपराधियों ने चाकू गोदकर उनकी हत्या कर दी.

वहीं, घटना को लेकर सदर एसडीपीओ प्रभाकर तिवारी ने बताया कि प्रथम दृष्टया और आरंभिक पूछताछ में पता चला है कि पारिवारिक विवाद में इनकी हत्या हुई है. घटनास्थल से चाकू और बाइक भी जब्त की गई है. वैज्ञानिक अनुसंधान से पता किया जा रहा है कि घटना कहां हुई है. कौन-कौन लोग इस घटना में शामिल हैं. फिलहाल पुलिस सभी बिंदुओं पर बारीकी से तफ्तीश कर रही है.

फिलहाल हत्या का खुलासा और अपराधियों की जल्द गिरफ्तारी का दावा पुलिस तो कर रही है, लेकिन बड़ा सवाल यह है कि जिस तरह बिहरा थाना क्षेत्र में आए दिन आपराधिक घटनाएं हो रही हैं उससे बिहरा थाना प्रभारी सहित पुलिसकर्मियों के कार्यशैली पर भी कई सवाल खड़े हो रहे हैं.