close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

झारखंड: आज गुमला आएगा शहीद संतोष का पार्थिव शरीर, दी जाएगी अंतिम विदाई

शहीद के पिता जीतू गोप और मां सारो देवी का कहना है कि हमें गर्व है कि मेरे लाल का खून देश के काम आया, लेकिन वो घर में कमाने वाला एकलौता था. 

झारखंड: आज गुमला आएगा शहीद संतोष का पार्थिव शरीर, दी जाएगी अंतिम विदाई
गुमला का जवान सीमा पर शहीद. (फाइल फोटो)

गुमला: पाकिस्तान की नापाक हरकत से सीमा पर शहीद (Martyr) हुए गुमला के लाल संतोष गोप का पार्थिव शरीर आज यानी सोमवार को उनके पैत्रिक गांव लाया जाएगा. अपने लाल के शहीद होने की खबर सुनते ही बसिय प्रखंड का टेंगरा गांव शोक की लहर में डूब गया. ज्ञात हो कि इस गांव से कुल पांच जवान सेना में भर्ती हुए हैं.

अपने बेटे के शहीद होने पर संतोष की मां सारो देवी का रो- रोकर बुरा हाल है. लेकिन देश के प्रति अपने लाल की कुर्बानी पर पूरे परिवार को गर्व है. सुबह से ही शहीद के घर परिजनों का आना- जाना लगा हुआ है.  इस गांव के लगभग पांच जवान फौज में भर्ती है, जिसमें एक जवान शहीद हो गया.

शहीद के पिता जीतू गोप और मां सारो देवी का कहना है कि हमें गर्व है कि मेरे लाल का खून देश के काम आया, लेकिन वो घर में कमाने वाला एकलौता था. बड़ा बेटा नीलाम्बर गोप खेती बारी करता है. संतोष हमारे लिए गुमला में घर बनवा रहा था, उसकी ये इच्छा अधूरी रह गई. वे दीपावली में घर आने वाला था, उसकी शादी करनी थी लेकिन वो शहीद हो गया. उन्होंने कहा कि हम सरकार से एक के बदले 10 सिर चाहते है. साथ ही हमें घर भी चाहिए.

आपको बता दें कि शहीद संतोष गोप 2012 में सेना में भर्ती हुए थे और वर्तमान में वो जम्मू-कश्मीर में तैनात थे. वो आखिरी बार मई 2019 में घर आए थे और उन्हें शुरू से ही देश सेवा का जुनून था.