पटना: AIIMS के पास रंगदारी मांगने से नाराज दवा दुकानदारों ने किया हंगामा

ताजा मामला पटना एम्स के पास की है जहां एम्स गेट के सामने स्थित दवा दुकानों में गुरुवार की शाम दहशत फैलाने के लिए फायरिंग की गई फिर एक दवा दुकान में धमकी भरी एक पर्ची फेंक कर दवा दुकानदारों से 5 लाख की रंगदारी भी मांगी गई.

पटना: AIIMS के पास रंगदारी मांगने से नाराज दवा दुकानदारों ने किया हंगामा
रंगदारी आर.एम.फार्मा के साथ साथ पाटलिपुत्रा और बिमल फार्मा दुकान से मांगी गई है.

पटना: राजधानी पटना में बढ़ते अपराध ने पटना पुलिस के नाक में दम कर रखा है. एक के बाद एक हो रहे आपराधिक घटनाओं ने पुलिस की नींद उड़ा दी है. पुलिस अभी एक मामले की जांच कर ही रहे होते है कि अपराधी दूसरी घटना को अंजाम दे फरार हो जाते है.

ताजा मामला पटना एम्स के पास की है जहां एम्स गेट के सामने स्थित दवा दुकानों में गुरुवार की शाम दहशत फैलाने के लिए फायरिंग की गई फिर एक दवा दुकान में धमकी भरी एक पर्ची फेंक कर दवा दुकानदारों से 5 लाख की रंगदारी भी मांगी गई. ये सारी घटनाएं दवा दुकान में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई जिसमें साफ तौर पर दिख रहा है कि कैसे एक पीली सर्ट और हेलमेट पहना हुआ व्यक्ति एक पर्ची आर.एम.फार्मा दुकान में पर्ची फेंक रहा है और फायरिंग करता हुआ फरार हो गया.

रंगदारी आर.एम.फार्मा के साथ साथ पाटलिपुत्रा और बिमल फार्मा नामक दुकान से मांगी गई है. जो पर्ची आर.एम.फार्मा में फेंकी गई थी उसमें लिखा था 5-5लाख तीन दुकान किंग्स गिरोह. इस घटना के बाद से एम्स के पास धंधा कर रहे दर्जनों दवा व्यवसायियों में दहशत का माहौल है और अपनी सुरक्षा की मांग को लेकर सभी दुकानदारों ने अपनी अपनी दुकानें बंद कर एम्स के पास एनएच 98 को जाम कर दिया और अपराधियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर हंगामा शुरू कर दिया.

इधर दुकानदारों के हंगामे को देखते हुए खुद फुलवारीशरीफ डीएसपी संजय पांडे दुकानदारों से मुलाकात करने मौके पर पहुंचे और एक सप्ताह के अंदर अपराधियो की गिरफ्तारी किये जाने का आश्वासन देकर जाम को फिलहाल तो हटवा दिया है पर इस घटना से डरे सहमे दवा व्यवसायियों में अब भी आक्रोश है. फिलहाल डीएसपी ने दवा व्यवसायियों की मांग पर कार्रवाई करते हुए उनकी सुरक्षा में एक सेक्शन पुलिस बल पटना एम्स के पास तैनात कर दिया है.

 दवा दुकानदारों का कहना है कि इस तरह की घटना से उनमें डर है वो बस अपनी सुरक्षा चाहते है यदि अपराधियो की जल्द गिरफ्तारी नहीं हुई तो एक बड़ा आंदोलन होगा. वहीं, डीएसपी ने कहा कि सीसीटीवी फुटेज के आधार पर अपराधियो की शिनाख्त लगभग कर ली गई है और जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा.