बिहारः मनरेगा अधिकारी को रिश्वत लेते रंगे हाथ विजिलेंस की टीम ने किया गिरफ्तार

बिहार के सहरसा जिले में एक सरकारी अधिकारी रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया गया है.

बिहारः मनरेगा अधिकारी को रिश्वत लेते रंगे हाथ विजिलेंस की टीम ने किया गिरफ्तार
विजिलेंस टीम ने मनरेगा अधिकारी को रिश्वत लेते गिरफ्तार किया है. (प्रतीकात्मक फोटो)

सहरसाः बिहार के सहरसा जिले में एक सरकारी अधिकारी रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया गया है. राज्य निगरानी अन्वेषण ब्यूरो (विजिलेंस) की टीम ने बुधवार को सहरसा के सोनबर्षा प्रखंड के महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम (मनरेगा) के कार्यक्रम अधिकारी (पीओ) राजीव रंजन को रिश्वत लेते गिरफ्तार किया है.

विजलेंस की टीम ने राजीव रंजन को 2 लाख 57 हजार रुपये रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ा है. निगरानी की टीम ने राजीव रंजन को उनके आवास से गिरफ्तार किया है. अब मनरेगा अधिकारी को पटना लाने की तैयारी की जा रही है.

दरअसल विजिलेंस को सूचना मिली थी कि मनरेगा के अधिकारी घूस मांग रहा है. इसी को लेकर पटना में मीटिंग बुलाई गई. जाल बिछाया गया. गाड़ी में भरकर पटना ऑफिस से विजिलेंस के अधिकारी सहरसा निकल पड़े. और रेड को अंजाम दिया.

ब्यूरो के एक अधिकारी ने यहां कहा कि अधिकारी पशु योजना शेड की स्वीकृति के लिए रिश्वत की मांग कर रहे थे, जिसकी सूचना निगरानी ब्यूरो को हो गई. ब्यूरो ने तत्काल विभाग के पुलिस उपाधीक्षक गोपाल पासवान के नेतृत्व में एक दल का गठन किया. 

पीओ सुबह अपने सहरसा के कायस्थ टोला स्थित घर में लोगों से बतौर रिश्वत 2.57 लाख की राशि ले रहे थे तभी ब्यूरो दल ने उन्हें रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया. टीम द्वारा पीओ के आवास की तालाशी के क्रम में भी 1.93 लाख रुपये नकद बरामद किए गए हैं.

गिरफ्तार पीओ को पटना लाया जा रहा है, जहां उन्हें निगरानी की विशेष अदालत में पेश किया जाएगा. इसके अलावा उनसे गहन पूछताछ भी की जाएगी.