close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार म्यूजियम में माइंड फेस्ट का आयोजन, बच्चों ने दिखाया अपना हुनर

 आईएएस ऑफिसर्स एसोसिएशन ,बिहार ब्रांच की तरफ से आयोजित पटना माइंड़ फेस्ट में पटना के बड़े स्कूलों के छात्र और छात्राओं ने हिस्सा लिया और अपने-अपने हुनर को भी आजमाया. ये प्रतियोगिता सभी तरह के आयु वर्ग के लोगों के लिए थी.

बिहार म्यूजियम में माइंड फेस्ट का आयोजन, बच्चों ने दिखाया अपना हुनर
पटना माइंड फेस्ट के नाम से हो रहे इस दो दिवसीय प्रतियोगिता में राजधानी के नामी गिरामी स्कूलों को बच्चों ने हिस्सा लिया.

पटना: दुनिया भर में विख्यात म्यूजियम में एक बिहार म्यूजियम इन दिनों बच्चों की तार्किक शक्ति परखने का गवाह बना हुआ. पटना माइंड फेस्ट के नाम से हो रहे इस दो दिवसीय प्रतियोगिता में राजधानी के नामी गिरामी स्कूलों को बच्चों ने हिस्सा लिया. कई तरह की क्विज कॉम्पीटिशन से बच्चों को अपने हुनर को भी आजमाने का मौका मिला.

कहते हैं किताबी ज्ञान से ज्यादा व्याहवारिक ज्ञान मायने रखता है. ये बात बच्चों के लिए खासा महत्व रखती है. आईएएस ऑफिसर्स एसोसिएशन ,बिहार ब्रांच की तरफ से आयोजित पटना माइंड़ फेस्ट में पटना के बड़े स्कूलों के छात्र और छात्राओं ने हिस्सा लिया और अपने-अपने हुनर को भी आजमाया. ये प्रतियोगिता सभी तरह के आयु वर्ग के लोगों के लिए थी.

 

जिसमें इंडिया क्विज,जनरल क्विज,वर्ड बी,क्रासवर्ड,डंब शरेड जैसे लॉजिकल गेम को भी शामिल किया गया था. आइएएस ऑफिसर्स एसोसिएशन बिहार ब्रांच के सचिव विवेक कुमार सिंह खुद बच्चों के इस हुनर को देख कर रहे थे. बच्चे बारी-बारी से अपने बुलावे का इंतजार कर रहे थे.

फिल्मों के गाने को संकेत के जरिए बच्चों ने समझने की कोशिश की. मशहूर फिल्म चक दे इंडिया के गाने को कुछ इस तरीके से पेश किया जा रहा था उसे समझने में बड़े-बड़े अधिकारी भी फेल हो गए लेकिन बच्चों ने थोड़ी मेहनत के बाद उसका जवाब दे दिया. आइएएस ऑफिसर्स एसोसिएशन बिहार ब्रांच के सचिव विवेक कुमार सिंह के मुताबिक, बिहार के संदर्भ में अक्सर इसके इतिहास की चर्चा होती है लेकिन भविष्य कैसे बेहतर हो इसके लिए भी काम किया जाना चाहिए.

जब तक बच्चों में तार्किक शक्ति नहीं बढ़ेगी. जीवन के मुश्किल वक्त में उनकी परेशानी बढ़ने लगेगी. दरअसल बैंगलुरू की कंपनी नेक्सस पूरे भारत में बच्चों के लिए इस तरह की प्रतियोगिता का आयोजन करती है और इसी क्रम में बिहार आइएस ऑफिसर्स एसोसिशन ने भी नेक्सस से संपर्क किया जिसके बाद पटना में कल और आज पटना माइंड फेस्ट के नाम से प्रतियोगिता का आयोजन हुआ.

बिहार में प्रतिभाओं की कमी नहीं है. लेकिन जिस तरह से प्रतियोगिता बढ़ रही है. बच्चों को किताबी ज्ञान के साथ व्यहवारिक ज्ञान भी बढ़ाने की जरूरत है और इस काम में पटना माइंड फेस्ट जैसे आय़ोजन अहम भूमिका निभाते हैं.