close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

रांची: बच्चों को बाप का नाम दिलाने कोर्ट पहुंची रेप पीड़िता, पंचायत ने लगा दी थी कीमत

पंचायत ने दोनों बेटियों की इज्जत की कीमत एक लाख दस हजार रुपए बताकर मामले को रफा दफा करने के लिए कहा.

रांची: बच्चों को बाप का नाम दिलाने कोर्ट पहुंची रेप पीड़िता, पंचायत ने लगा दी थी कीमत
बच्चे को उसके बाप का नाम दिलाने कोर्ट पहुंची रेप पीड़िता.

रांची : झारखंड की राजधानी रांची (Ranchi) में एक ही परिवार की दो नाबालिग बेटियां (Minor Girls) शादी से पहले मां बन गई. पड़ोस के ही दो लोगों ने दोनों बहनों को अपनी हवस का शिकार बनाया. बलात्कार (Rape) के आरोप में दोनों आरोपी को जेल की सजा हुई, लेकिन दोनों नाबालिग मां बन गई. नौ महीने बाद दोनों ने बच्चे को जन्म दिया. दोनों बेटियों के बच्चे को पिता का नाम दिलाने के लिए जब परिवार पंचायत के पास इंसाफ के लिए पहुंचा तो वहां अजीबोगरीब फैसला सुनाया गया.

पंचायत ने दोनों बेटियों की इज्जत की कीमत एक लाख दस हजार रुपए बताकर मामले को रफा दफा करने के लिए कहा. इसके बाद अब पूरा परिवार दोनों बच्चे को पिता का नाम दिलाने के लिए अदालत से इंसाफ की गुहार लगा रहा है.

समाज में रिश्ते और इंसानियत को झकझोर कर रख देने की यह काली कहानी रांची की है, जहां 2017 में पड़ोस के रहने वाले दो लोगों ने दोनों बच्ची के साथ बलात्कार किया. कई दिनों तक बच्ची के साथ बलात्कार करता रहा. बच्ची की शिकायत के बाद पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया. उनमें से एक आज भी जेल की सजा काट रहा है. दूसरे की सजा पूरी हो चुकी है, वह बाहर आ चुका है.

वकील के मुताबिक, दोनों बच्चे के डीएनए और आरोपी के डीएनए मैच होने के बाद ही कानून किसी फैसले पर पहुंचेगी. बहरहाल, इस केस में अदालत अपना क्या फैसला सुनाती है, यह तो वक्त के साथ ही पता चलेगा. इतना तो साफ है कि पूरे परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है. दोनों बेटियों के पास उनके बच्चे तो हैं, लेकिन बच्चों को बाप का नाम देने वाला कोई नहीं.

--Taskeen Salmanoor, News Desk