close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

झारखंडः सोशल मीडिया के जरिए फैलाई भ्रामक अफवाह तो होगी कड़ी कार्रवाई

पुलिस ने सख्त रवैया अपनाते हुए यह जानकारी दी है कि अगर कोई भी व्यक्ति इन भ्रामक मैसेज के चेन का हिस्सा बनता है. तो उस पर कड़ी कार्रवआई की जाएगी.

झारखंडः सोशल मीडिया के जरिए फैलाई भ्रामक अफवाह तो होगी कड़ी कार्रवाई
पुलिस प्रवक्ता आशीष बत्रा ने सोशल मीडिया भ्रामक पोस्ट को लेकर जानकारी दी है.

रांचीः हाल के दिनों में सोशल मीडिया पर वायरल मैसेज और अफवाहों की वजह से खूब बवाल हुआ है. जाने अनजाने में किये गए भ्रामक पोस्ट की वजह से राज्य का आपसी सौहार्द भी कई बार खतरे में आई है. लेकिन अब झारखंड पुलिस इसमें ज़रा भी ढील बरतने के मूड में नहीं है. 

पुलिस प्रवक्ता सह आईजी ऑपरेशन के मुताबिक अभिव्यक्ति की आजादी का मौलिक अधिकार हमें मिला है, लेकिन आजादी तब तक ही है जब तक हम दूसरे के मौलिक अधिकार का हनन ना करते हो. 

इंटरनेट हमारे लिए जितना वरदान है उतना अभिशाप भी बन गया है. लेकिन हाल के दिनों में इसका इस्तेमाल नफरत और अफवाहें फैलाने के लिए किया गया है. 

इस मामले में पुलिस ने सख्त रवैया अपनाते हुए यह जानकारी दी है कि अगर कोई भी व्यक्ति इन भ्रामक मैसेज के चेन का हिस्सा बनता है. और जिससे शांति भंग होती है या किसी समुदाय या वर्ग को ठेस पहुंचती है तो संबंधित व्यक्ति पर आईपीसी और इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी की विभिन्न धाराओ के तहत कड़ी कार्रवाई होगी.

इधर झारखंड पुलिस के आईजी ने लोगों से अनुरोध भी किया है कि इस तरीके के भ्रामक मैसेज की जानकारी अगर उन्हें मिलती है तो डायल 100 में यह सूचना दें, ताकि त्वरित गति से उस पर कार्रवाई की जा सके.