close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

झारखंड के इस विधायक ने कायम की इंसानियत की मिसाल, की बुजुर्ग दिव्यांगों की मदद

कुणाल भावुक होकर तुरंत उनके पास गए, दोनों बुजुर्गों की समस्याओं को सुना. इतना ही नहीं, जब कुणाल को पता लगा कि दिव्यांगों के पास बैसाखी नहीं है, तो उन्होंने तुरंत अपने कार्यकर्ताओं से गाड़ी में रखी बैसाखी मंगवाई और दोनों को तत्काल उपलब्ध कराया.  

झारखंड के इस विधायक ने कायम की इंसानियत की मिसाल, की बुजुर्ग दिव्यांगों की मदद
कुणाल भावुक होकर तुरंत उनके पास गए और दोनों बुजुर्गों की समस्याओं को सुना.

बहरागोड़ा: झारखंड के बहरागोड़ा के विधायक कुणाल ने. विधायक कुणाल ने दो दिव्यांग बुजुर्गों की मदद कर इंसानियत की मिसाल कायम की है. विधायक कुणाल षाड़ंगी गुड़ाबांधा गांव के दौरे पर निकले थे, जहां नाईकानशोल गांव में सामुदायिक भवन का उद्घाटन करने के लिए उन्हें बुलाया गया था. इस दौरान उनकी नजर दो दिव्यांग बुजुर्ग ग्रामीणों पर पड़ी, जो डंडे के सहारे चल रहे थे. 

कुणाल भावुक होकर तुरंत उनके पास गए, दोनों बुजुर्गों की समस्याओं को सुना. इतना ही नहीं, जब कुणाल को पता लगा कि दिव्यांगों के पास बैसाखी नहीं है, तो उन्होंने तुरंत अपने कार्यकर्ताओं से गाड़ी में रखी बैसाखी मंगवाई और दोनों को तत्काल उपलब्ध कराया.

 

आमतौर पर विधायक अपने कार्यक्रम के दौरान इस तरह से लोगों से मिलने का कम ही समय निकाल पाते हैं लेकिन विधायक कुणाल के इस कदम के बाद लोग उनकी जमकर तारीफ कर रहे हैं. उन्होंने अपने कार्यक्रम को नजरअंदाज दिव्यांग बुजुर्गों की समस्याओं को जाना, और उनकी तरफ मदद के हाथ बढ़ाए. 

दोनों बुजुर्गों को बैसाखी मिलने से बहुत बड़ा सहारा मिला है. इतना ही नहीं विश्वकर्मा पूजा के शुभ अवसर पर कुणाल ने उन्हें अपने हाथों से मिठाई भी खिलाई. जिसके बाद दोनों काफी खुश नजर आए. 

इस मौके पर विधायक कुणाल षाड़ंगी ने कहा कि जरूरतमंद लोगों की मदद करने से मुझे काफी सुकून मिलता है. हमें असहाय लोगों की मदद करती रहनी चाहिए.
--Jyoti, News Desk