भीड़ ने की थी हत्या, कोर्ट ने 10 लोगों को सुनाई उम्र कैद की सजा

झारखंड स्थित बोकारो में मॉब लिंचिंग के एक मामले में कोर्ट ने अपना अहम फैसला सुनाया है. बोकारो के तेनुघाट व्यवहार न्यायालय ने मॉब लिचिंग के मामले में 10 आरोपियों को दोषी करार देते हुए उम्र कैद की सजा सुनायी है. कोर्ट ने सभी आरोपियों पर 14-14 हजार रुपये का अर्थदंड भी लगाया है.

भीड़ ने की थी हत्या, कोर्ट ने 10 लोगों को सुनाई उम्र कैद की सजा
मॉब लिचिंग के एक मामले में कोर्ट ने 10 दोषियों को उम्र कैद की सजा सुनायी है. (फोटोः प्रतीकात्मक)

बोकारोः झारखंड स्थित बोकारो में मॉब लिचिंग के एक मामले में कोर्ट ने अपना अहम फैसला सुनाया है. बोकारो के तेनुघाट व्यवहार न्यायालय ने मॉब लिचिंग के मामले में 10 आरोपियों को दोषी करार देते हुए उम्र कैद की सजा सुनायी है. कोर्ट ने सभी आरोपियों पर 14-14 हजार रुपये का अर्थदंड भी लगाया है. अपर सत्र न्यायाधीश द्वितीय गुलाम हैदर की कोर्ट ने दोषियों को यह फैसला सुनाया है. कोर्ट ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए सभी आरोपियों को सजा मुकर्रर की है.

मामला यह था कि बच्चा चोरी के आरोप में भीड़ ने समशुद्दीन अंसारी नाम के व्यक्ति को पीट-पीट कर बुरी तरह से घायल कर दिया था. समसुद्दीन की मौत इलाज के दौरान अस्पताल में हो गई थी.

4 अप्रैल को समशुद्दीन अपने ससुराल बोकारो के चंद्रपुरा प्रखंड के नर्रा गांव में था. वह धनबाद के महुदा का रहने वाला था. बच्चा चोरी करने का आरोप लगाते हुए गांव के लोगों ने समशुद्दीन को घर से निकाल कर बुरी तरह पीटा. उसे इतना पीटा गया कि वह अधमरा हो गया. अधमरे हालत में उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया. लेकिन उसे रांची रिम्स रेफर कर दिया गया. रिम्स में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई.

पुलिस ने इस मामले में 10 लोगों को आरोपी बनाया था. सजा के लिए मंगलवार को कोर्ट में सुनवाई हुई जिसमें सभी 10 लोगों को दोषी ठहराया गया. सजा को लेकर कोर्ट में कड़ी सुरक्षा की व्यवस्था भी की गई थी. वहीं, सजा सुनाने के बाद बचाव पक्ष के वकील ने कहा है कि वह फैसले को हाईकोर्ट में चुनौती देंगे.