close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

गया में मां और दो बच्चों की हत्या, ससुराल वालों पर हत्या की आशंका

तीनों को जलाने की कोशिश हुई थी. घटना के बाद से महिला का पति रंजय मांझी पूरे परिवार के साथ फरार है. 

गया में मां और दो बच्चों की हत्या, ससुराल वालों पर हत्या की आशंका
गया में मां और उसके दो बच्चों की हत्या.

गया : खिजरसराय प्रखंड के महकार थाना क्षेत्र के कोडीहरा में मंगलवार की सुबह मां और उसके दो बच्चों के शव मिलने से पुरे इलाके में सनसनी फैल गई. हत्या करने के बाद कोडीहरा महादलित टोला के बधार में तीनों शवों को फेंक दिया गया था. मृतकों की पहचान कोडीहरा की अंजू देवी (35 वर्ष), ओमप्रकाश (04 वर्ष) और आशिक (02 वर्ष) के रूप में हुई है.

तीनों को जलाने की कोशिश हुई थी. घटना के बाद से महिला का पति रंजय मांझी पूरे परिवार के साथ फरार है. 

स्थानीय लोगों के मुताबिक, सबसे पहले घटना की जानकारी गांव के गुलाबंचद मांझी को मिली. उन्होंने शवों को देखा तो गांव वालों को इसकी जानकारी दी. आशंका जतायी जा रही है कि तीनों को जहर देकर मारा गया है. एक बच्चे की आंख में गंभीर जख्म है. इससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि उसकी पिटाई भी हुई है. महकार थाना पुलिस ने शवों को बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. एएसआई उमाराज ने बताया कि मामले की छानबीन की जा रही है.

ससुराल वालों पर हत्या का शक
गांव वालों के मुताबिक, अंजू देवी को सोमवार की सुबह अंतिम बार देखा गया था. अंजू और उसके दो बच्चों की हत्या का शक ससुराल वालों पर है. घटना के बाद से सभी फरार हैं. लोगों ने बताया कि बेंगलुरू में किसी कंपनी में काम करने वाला रंजय मांझी दस दिन पहले ही गांव आया था. उसका पत्नी से किसी बात को लेकर झगड़ा चल रहा था. हत्या की जानकारी मिलने के बाद खटोला बिगहा, नालंदा के रहने वाले अंजू देवी के मायके वाले खिजरसराय पहुंच गए हैं.