close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार : बाढ़ ने नहीं, मां ने ली बच्चों की जान, सोशल मीडिया में वायरल हुई थी तस्वीर

मुजफ्फरपुर के डीएम आलोक रंजन घोष का कहना है कि शीतलपट्टी गांव में एक साथ तीन बच्चों की मौत का कारण न तो बाढ़ है और न ही यह कोई दुर्घटना है. 

बिहार : बाढ़ ने नहीं, मां ने ली बच्चों की जान, सोशल मीडिया में वायरल हुई थी तस्वीर
मां ने ले ली बच्चों की जान.

मुजफ्फरपुर : बिहार के मुजफ्फरपुर की एक तस्वीर सोशल मीडिया में खूब वायरल हो रही है. तस्वीर है एक मासूम के शव की. सोशल मीडिया में इस बात की चर्चा है कि बच्चे की मौत बाढ़ से हुई है. इसके लिए सरकार पर भी निशाना साधा जा रहा है. लेकिन इस मामले में सुबह से चौकाने वाले खुलासे हुए हैं. पहले खबर आई कि बच्चे की मौत दुर्घटना में हुई, लेकिन अब जो बात सामने निकलकर आयी है वह दिल दहला देने वाली है.

मुजफ्फरपुर के डीएम आलोक रंजन घोष का कहना है कि शीतलपट्टी गांव में एक साथ तीन बच्चों की मौत का कारण न तो बाढ़ है और न ही यह कोई दुर्घटना है. डीएम का कहना है कि बच्चों की मां ने सभी बच्चों को पानी में डुबो कर उनकी हत्या कर दी.

जानकारी के मुताबिक किसी बात को लेकर पति से मोबाइल फोन पर झगड़ा हुआ. इसके बाद वह चारों बच्चों को पानी में डूबो दी. इसके बाद वह खुद आत्महत्या के इरादे से पानी में कूद गई. स्थानीय गोताखोरों ने मां और एक बच्चे को बचा लिया गया, जबकि तीन की मौत हो गई. ग्रामीण भी मां के द्वारा बच्चों की हत्या की बात को सही ठहरा रहे हैं.

मृतक बच्चों की पहचान शीतलपट्टी गांव के शत्रुघ्न राम के बेटे अर्जुन, राजा और बेटी ज्योति के रूप में हुई है. मां रीना देवी और एक बेटी राधा को लोगों ने बचा लिया. घटना के बाद से रीना व उसके परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है.