मुकेश सहनी ने अपने भविष्य को लेकर किया खुलासा, तेजस्वी को माफी मांगने की दी सलाह

मुकेश सहनी ने अपने आगे के राजनीतिक भविष्य के बारे में बात करते हुए कहा कि उपेंद्र कुशवाहा और पप्पू यादव के साथ मिलकर एक गठबंधन बनाएंगे. अगर तीनों में सहमति बनती है तो साथ मिलकर चुनाव लड़ेंगे

मुकेश सहनी ने अपने भविष्य को लेकर किया खुलासा, तेजस्वी को माफी मांगने की दी सलाह
मुकेश सहनी ने अपने भविष्य को लेकर किया खुलासा, तेजस्वी को माफी मांगने की दी सलाह.

पटना: पिछले दिनों बिहार में एक बड़ा राजनीतिक बवाल हुआ. महागठबंधन (Mahagathbandhan) ने संयुक्त रूप से प्रेस वार्ता कर सीट शेयरिंग फॉर्मूले का खुलासा किया लेकिन मुकेश सहनी को आरजेडी कोटे से सीट देने का तरीका उन्हें पसंद नहीं आया. फिर क्या था. महागठबंधन के प्रेस वार्ता के दौरान ही उन्होंने हंगामा कर दिया और खुद ही उससे बाहर हो गए.

अब मुकेश सहनी (Mukesh Sahani) ने अपने भविष्य को लेकर पत्ते खोलने शुरू कर दिए हैं. वीआईपी प्रमुख ने कहा कि लोकसभा चुनाव के दौरान भी चीट किय गया. मैं दरभंगा से लड़ना चाहता था लेकिन खगड़िया से टिकट दिया गया. मुजफ्फरपुर और मधुबनी से भी मैं लड़ना नहीं चाहता था लेकिन जबर्दस्ती टिकट दिया गया.

उन्होंने कहा कि आरजेडी हमेशा से षड्यंत्र रचती है. उन्होंने कहा कि तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) को उनके परिवार से ज्यादा मैं सपोर्ट करता था. मुकेश सहनी ने यह भी बताया कि तेजप्रताप की तबीयत को लेकर झूठ बोला गया. उनकी तबीयत खराब होने का बहाना बनाया गया है. 

उन्होंने कहा कि मैं आवास पर ही उनके साथ मौजूद था. दो दिन पहले उनके आवास पर ही हमारी तेजस्वी से बातचीत हुई थी. इससे पहले जीतनराम मांझी और उपेन्द्र कुशवाहा की भी बेईज्जती की गई.

वीआईपी प्रमुख मुकेश सहनी ने कहा कि दो दिन पहले आये लेफ्ट के लिए टिकट घोषित किया गया, लेकिन VIP के लिए सीट घोषित नहीं किया गया. तेजस्वी ने कहा था कि कांग्रेस को टाइट कीजिए. तभी हमारे प्रवक्ता ने कांग्रेस के खिलाफ बोलना शुरू किया था. 

तेजस्वी पर मुकेश सहनी ने बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि उनका DNA  ही ठीक नहीं है. जो अपने भाई तेजप्रताप का नहीं हो सकता वह बिहार के युवाओं का क्या होगा. उन्होंने यह भी कहा कि जो अपनी पत्नी को छोड़ सकता है, तो वह छोटी-छोटी पार्टियों को क्या साथ रखेगा.

मुकेश सहनी ने अपने आगे के राजनीतिक भविष्य के बारे में बात करते हुए कहा कि उपेंद्र कुशवाहा और पप्पू यादव के साथ मिलकर एक गठबंधन बनाएंगे. अगर तीनों में सहमति बनती है तो साथ मिलकर चुनाव लड़ेंगे वरना वीआईपी सभी 243 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारेगी.

उन्होंने कहा कि बिहार विधानसभा चुनाव में एनडीए और महागठबंधन से जहां भी अतिपिछड़ा उम्मीदवार खड़ा होगा. वहां से अपने पार्टी का कोई उम्मीदवार मुकेश सहनी मैदान में नहीं उतारेंगे. वीआईपी प्रमुख ने कहा कि कल सुबह 11 बजे प्रथम चरण के 71 नामों की घोषणा पार्टी करेगी.

मुकेश सहनी ने इस दौरान आरजेडी में अपनी वापसी को लेकर कहा कि तेजस्वी यादव पहले माफी मांगें. उन्होंने हा कि आरजेडी अपना नेतृत्व बदले और तेजप्रताप के हाथ में नेतृत्व दे तो मैं आरजेडी के लिए सोचूंगा. तेजप्रताप यादव को परिवार के लोग परेशान कर रहे हैं. बड़े भाई तेजप्रताप को छोड़ तेजस्वी डिसीजन ले रहे हैं.

उन्होंने कहा कि टिकट के लिए RJD  में दुकान में लग गया है. तेजस्वी के नेतृत्व में पूरे जीवन में RJD में कभी नहीं जाऊंगा. मुकेश सहनी ने कहा कि लालू यादव और तेजप्रताप यादव अच्छे हैं लेकिन तेजस्वी नहीं. तेजस्वी को सीट का नम्बर बोलना था लेकिन नहीं बोला और धोखा दिया.