मुंगेर-भागलपुर के बीच सड़क परियोजना को केंद्र से मिली मंजूरी, 2 पैकेज में स्वीकृत 1870 करोड़ रुपए

बिहार के पथ निर्माण मंत्री मंगल पांडेय (Mangal Pandey) ने कहा है कि गंगा नदी के दक्षिण बक्सर से भगलपुर के रास्ते झारखंड की सीमा तक 4 लेन पथ निर्माण परियोजना की मंजूरी का काम तेज हो गया है.

मुंगेर-भागलपुर के बीच सड़क परियोजना को केंद्र से मिली मंजूरी, 2 पैकेज में स्वीकृत 1870 करोड़ रुपए
मुंगेर-भागलपुर के बीच सड़क परियोजना को केंद्र से मिली मंजूरी, 2 पैकेज में स्वीकृत 1870 करोड़ रुपए.

Munger: बिहार के पथ निर्माण मंत्री मंगल पांडेय (Mangal Pandey) ने कहा है कि गंगा नदी के दक्षिण बक्सर से भगलपुर के रास्ते झारखंड की सीमा तक 4 लेन पथ निर्माण परियोजना की मंजूरी का काम तेज हो गया है. इसके तहत केंद्र सरकार ने मुंगेर से भागलपुर के बीच 1869.27 करोड़ रुपये की लागत से दो पैकेज में बनने वाली 57 किलोमीटर लंबी 4 लेनिंग के काम का निविदा निष्पादन अंतिम चरण में है.

मंगल पांडेय (Mangal Pandey)ने आज यहां बताया कि 918.38 करोड़ रुपये की लागत से प्रथम पैकेज में मुंगेर से खरिया गांव के जंक्शन तक लगभग 25 किमी 4 लेन पथ का निर्माण किया जाएगा. इसके लिए वित्तीय बीड खोलने के बाद न्यूनतम निविदाकार के पक्ष में निविदा के निस्तार की कार्रवाई की जा रही है. 

इसी प्रकार पैकेज तीन में भागलपुर बाईपास के शुरुआत से रसूलपुर तक कोई 32 किलोमीटर लंबी सड़क बनेगी जिस पर 950.89 करोड़ रुपये की लागत आएगी. इसमें भी निविदा निस्तार की करवाई जारी है. कार्य आवंटन के बाद काम पूरा करने की अवधि दो वर्ष निर्धारित की गई है. निर्माण के बाद अगले 15 वर्षों तक अनुरक्षण का काम संबंधित संवेदक करेंगे. पैकेज दो और चार की करवाई बाद में होनी है. 

यह भी पढ़ें:- बिहार के 5 जिलों में पथ निर्माण के 7 योजनाओं के लिए 135.11 करोड़ फंड को मिली मंजूरी

नेशनल हाईवे ऑथोरिटी ने राज्य सरकार के अनुरोध पर राष्ट्रीय उच्च पथ संख्या 80 के नए हरित क्षेत्र मार्गरेखन पर 4 लेन सड़क निर्माण के लिए 4 पैकेजों में निविदा आमंत्रित की थी.

पथ निर्माण मंत्री मंगल पांडेय (Mangal Pandey)ने बताया पूर्वी बिहार और झारखंड के संथाल परगना (Santhal Paragana)इलाके के लिए अति महत्वपूर्ण इस परियोजना के संबंध में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) का प्रयास है कि गंगा नदी के दक्षिण बक्सर से पटना-मोकामा-मुंगेर-भगलपुर के रास्ते झारखंड सीमा तक 4 लेन सड़क बने. इस लक्ष्य की प्रगति में अब मात्र मोकामा-मुंगेर सेक्शन बाकी रह गया है. 

उन्होंने यह भी कहा कि मुख्यमंत्री के आग्रह पर केंद्र सरकार ने इसके लिए भी विस्तृत परियोजना प्रतिवेदन बनाना प्रारंभ कर दिया है. ज्ञातव्य है कि नेशनल हाईवे ऑथोरिटी द्वारा राज्य सरकार के अनुरोध पर एनएच 80 के वर्तमान मार्ग रेखांकन पर 980 करोड़ रुपये की लागत से 2 लेन पेभड सोल्डर सड़क निर्माण की पूर्व में ही सैद्धांतिक स्वीकृति दी जा चुकी है. जिसके आलोक में पथ निर्माण विभाग द्वारा विस्तृत परियोजना प्रतिवेदन तैयार कर सड़क परिवहन एवम राज मार्ग मंत्रालय को समर्पित कर दिया गया है तथा निर्माण पूर्व गतिविधियां प्रारंभ कर दी गयी है.

पांडेय ने विभाग की ओर से राज्य में आधारभूत सरंचनाओं के विकास में भारत सरकार से प्राप्त हो रहे सहयोग के लिए आभार व्यक्त करते हुए कहा है कि इस परियोजना जे निर्माण में राज्य सरकार की ओर से नेशनल हाईवे अथारिटी को पूरी मदद की जाएगी.
इनपुट:- प्रशांत कुमार