बगहा में हुआ कोरोना विस्फोट! 51 लोग पाए गए positive, ग्रामीणों में दहशत

Bihar Samachar: मोहल्ले के वार्ड पार्षद उमेश गुप्ता, कमलेश पटेल, सुभाष चौधरी व ग्रामीणों का कहना है कि 'ग्रामीण पीएचसी नहीं जाना चाहते है. पीएचसी में भीड़ देखकर ग्रामीण भाग आ रहे है.'

बगहा में हुआ कोरोना विस्फोट! 51 लोग पाए गए positive, ग्रामीणों में दहशत
बगहा में हुआ कोरोना विस्फोट!

Bagaha: बिहार के बगहा का 21 नम्बर बनकटवा वार्ड कोरोना का हॉटस्पॉट बन गया है. यहां पर कोरोना विस्फोट हुआ है. गांव में 51 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. मुहल्ले के हर तीसरे घर मे कोरोना पॉजिटिव है. शहर से सटे एक किमी की दूरी पर यह मुहल्ला मेडिकल टीम का इंतजार कर रहा है. वार्ड 20, 21और 22 में तेजी से संक्रमण फैल रहा है. मोहल्लेवासी कोरोना को लेकर दहशत में है. उसके बावजूद लोग पीएचसी नहीं जाना चाहते है.

मोहल्ले के वार्ड पार्षद उमेश गुप्ता, कमलेश पटेल, सुभाष चौधरी व ग्रामीणों का कहना है कि 'ग्रामीण पीएचसी नहीं जाना चाहते है. पीएचसी में भीड़ देखकर ग्रामीण भाग आ रहे है.' सभी वार्ड पार्षदों और ग्रामीणों का कहना है कि 'सरकार मोहल्ले में डोर टू डोर कोविड जांच करा दे, ताकि जितने मरीज है एक साथ सामने आ जाए और उनका इलाज बेहतर ढंग से किया जाए.'

मोहल्ले के लोगों मे कोरोना को लेकर भय और दहशत का माहौल है. देर रात्रि मोहल्ले में एक युवक की कोरोना से मौत भी हो गई है, जिससे ग्रामीण खौफजदा भी हो गए है.

ये भी पढ़ें- Patna Airport भी हुआ कोरोना का शिकार, दो दर्जन से अधिक कर्मचारी संक्रमित

बता दें कि बनकटवा गांव इस समय कोरोना का हॉटस्पॉट बन चुका है. यहां 51 कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. हर तीसरे घर मे एक पॉजिटिव मरीज मौजूद है. ग्रामीण पीएचसी नहीं जाना चाहते है, जांच नही कराना चाहते है. ग्रामीण मोहल्ले में ही मेडिकल टीम की मांग कर रहे हैं और एक साथ सभी की जांच हो ये सरकार से मांग कर रहे हैं.

अब सवाल उठता है कि ग्रामीण पीएचसी नहीं जाना चाहते है, मोहल्ला हॉटस्पॉट बन चुका है तो प्रशासन को चाहिए की ग्रामीणों की जांच कर समुचित इलाज की व्यवस्था करें, ताकि इस महामारी से हॉटस्पॉट बना यह मुहल्ला निजात पा सके.

ये भी पढ़ें- Positive News: हाहाकार के बीच गूंजी किलकारियां, कोरोना संक्रमित महिला ने बेटे को दिया जन्म

वहीं, बगहा के एक पीएचसी प्रभारी डॉ एसएन महतो ने बताया कि 'बनकटवा मोहल्ला मात्र एक किमी की दूरी पर है. सभी को इस महामारी में सहयोग करना चाहिए. अस्पताल में मात्र दो डॉक्टर बचे हैं, दिन रात काम कर रहे है, सभी 51 पॉजिटिव मरीजों को दवा दी गई है, उन्हें मोबाइल द्वारा मैसेज किया गया है. सभी मोहल्लेवासी से आग्रह है कि पीएचसी आए और अपना कोविड टेस्ट कराए. इस समय पीएचसी में मात्र दो डॉक्टर बचे हैं जो वैक्सीनेशन के साथ-साथ कोविड टेस्ट भी कर रहे हैं. यह समय काफी नाजुक है इसमें मोहल्लेवासी पीएचसी की मदद करें और सेंटर पर आए. मात्र एक किमी की दूरी पर यह गांव है और अस्पताल में दो-दो जगह जांच की व्यवस्था की गई है ऐसे में बनकटवा के ग्रामीणों से सहयोग की उम्मीद रखते है.'

(इनपुट- धनंजय द्विवेदी