कोरोना वैक्सीन को लेकर SDM ने संभाला मोर्चा, टीका लगवाने की लोगों से की अपील

Bettiah Samachar: कोरोना जैसी वैश्विक महामारी को हराने में प्रशासन के साथ साथ जनप्रतिनिधियों एवं आम लोगों का सहयोग भी जरूरी है.

कोरोना वैक्सीन को लेकर SDM ने संभाला मोर्चा, टीका लगवाने की लोगों से की अपील
कोरोना वैक्सीन को लेकर SDM ने संभाला मोर्चा.(प्रतीकात्मक तस्वीर)

Bettiah: बेतिया के नरकटियागंज में मझौलिया के बाद बड़े पैमाने पर कोरोना वैक्सीन लेने से लोग इन्कार कर रहें हैं. इसको लेकर नरकटियागंज अनुमंडल प्रशासन ने मोर्चा संभाल लिया है और अधिक से अधिक लोगों को वैक्सीन लगाने के लिए एसडीएम साहिला हीर ने पहल शुरू कर दी हैं. 

इसके तहत गांव-गांव जाकर लोगों से अपील की जा रही हैं कि लोग वैक्सीन (Vaccine) लगवाएं और इससे कोई दिक्कत नहीं होने वाली हैं. इसके तहत एसडीएम (SDM) लोगों से मानव जीवन के हित में कोविड-19 (Covid-19) का टीका लगवाने अनुरोध कर रही हैं.

ये भी पढ़ेंः  बारात में जाने वाले हो जाएं सावधान! मेंढक दौड़ कराकर पुलिस ले रही है Immunity Test

यह मामला मैनाटाड़ प्रखंड क्षेत्र से सामने आया है. यहां लोग टीका लेने में आनाकानी कर रहें थे. लेकिन एसडीएम ने पहुंच कर लोगों से अपील की. इसके बाद टीका लेने लोग पहुंचने लगे हैं. वहीं, इसके बाद एसडीएम साहिला हीर ने कहा कि 'स्वास्थ्य विभाग, प्रशासन, पुलिस एवं इससे जुड़े संबंध कर्मचारी आम लोगों के बीच कोविड 19 का टीका लेने और कोरोना प्रोटोकॉल के तहत रहने को ले जन जागरूकता फैलाए.' 

उन्होंने कहा कि 'कोरोना (Corona) जैसी वैश्विक महामारी को हराने में प्रशासन के साथ साथ जनप्रतिनिधियों एवं आम लोगों का सहयोग भी जरूरी है. स्वास्थ्य टीम पंचायत और टीकाकरण एवं करोना जांच को लेकर रूटीन वर्क के तहत काम करेगी.'

मानव हित में लॉकडाउन का पालन कराने के लिए प्रशासन पूर्ण रूप से कटिबद्ध है. उन्होंने बीडीओ राजकिशोर प्रसाद शर्मा, सीओ कुमार राजीव रंजन, हेल्थ मैनेजर विनोद कुमार सिंह सहित अन्य पदाधिकारियों को निर्देश दिया कि 'लॉकडाउन-4 का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ पूर्ण रूप से सख्ती बरतें'

ये भी पढ़ेंः कोरोना की दूसरी लहर के बीच लापरवाही, केंद्रों पर टेस्टिंग की कमी

बता दें कि पश्चिम चंपारण जिला के डीएम कुंदन कुमार ने भी मझौलिया समेत महादलित टोला में डोर टू डोर लोगों से मिलकर समझा बुझाकर टीका लगाने की कवायद शुरू किया है. इसके बाद एसडीएम साहिला भी गंभीर हैं और यहीं वजह है अब आईएएस अधिकारी जिले के अलग-अलग जगहों पर ग्रामीणों को जागरूक करने में जुटे हैं. 

(इनपुट-इमरान अज़ीज)