close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार: पुलिस की मुस्तैदी से मॉब लिंचिंग का शिकार होने से बचे 6 युवक, 3 की हालत गंभीर

बच्चे को टक्कर लगने की खबर जैसे ही गांव में फैली कि सैकड़ों ग्रामीण जमा हो गए. सभी युवकों को पकड़कर उनकी धुनाई करने लगे. 

बिहार: पुलिस की मुस्तैदी से मॉब लिंचिंग का शिकार होने से बचे 6 युवक, 3 की हालत गंभीर
पुलिस की मुस्तैदी से बची युवकों की जान.

नालंदा: बिहार के नालंदा के हरनौत थाना क्षेत्र के पोरई गांव के पास छह युवक भीड़ का शिकार (Mob Lynching) होने से बच गए. दरअसल बस्ती गांव निवासी संजय पांडेय का बेटा सौरभ अपनी गाड़ी लेकर दोस्तों के साथ घूमने निकला था. उसी दौरान न्यू बाईपास के पास एनएच 30 के पोरई गांव के पास कार असंतुलित हो गई और सड़क किनारे खड़े एक बच्चे को टक्कर मारते हुए खाई में पलट गई.

बच्चे को टक्कर लगने की खबर जैसे ही गांव में फैली कि सैकड़ों ग्रामीण जमा हो गए. सभी युवकों को पकड़कर उनकी धुनाई करने लगे. हालांकि इसी दौरान एक युवक ग्रामीणों के चंगुल से भाग निकला और हरनौत पुलिस को इसकी सूचना दी.

पुलिस भी घटना की सूचना मिलने के बाद बिना देर किए गांव पहुंची और त्वरित कार्रवाई करते हुए सभी बंधक युवकों को छुड़ाया. उनकी गंभीर हालात को देखते हुए उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया. फिलहाल पांच में से तीन युवकों की हालत गंभीर बनी हुई है.

फिलहाल पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है. पुलिस मामले की जांच के बाद दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की बात भी कह रही है.

-- Rajendra Malviya, News Desk