सोनिया की सलाह पर नंद किशोर बोले- चेहरा चमकाने के लिए नहीं करते विज्ञापन का प्रयोग

उन्होंने आगे लिखा, 'इस संकट काल में सरकारी विज्ञापनों का औचित्य और बढ़ गया है. क्योंकि सरकारी विज्ञापनों के माध्यम से सरकार इस महामारी से आम लोगों को सतर्क कर रही है. यह भी बता रही है, कि लोगों को क्या-क्या एहतियात बरतना चाहिए.'

सोनिया की सलाह पर नंद किशोर बोले- चेहरा चमकाने के लिए नहीं करते विज्ञापन का प्रयोग
सोनिया की सलाह पर नंद किशोर बोले- चेहरा चमकाने के लिए नहीं करते विज्ञापन का प्रयोग. (फाइल फोटो)

पटना: बीजेपी के वरिष्ठ नेता और बिहार की नीतीश कुमार (Nitish Kumar) सरकार में पथ निर्माण मंत्री नंद किशोर यादव ने ट्वीट करके कांग्रेस की अतरिंम अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) की सलाह पर जवाब देते हुए कहा कि हम विज्ञापन का इस्तेमाल चेहरा चमकाने के लिए नहीं करते हैं.

नंद किशोर यादव ने ट्वीट कर लिखा, 'कांग्रेस की महारानी ने कोरोना महामारी से लड़ने के लिए सरकारी विज्ञापनों पर दो साल तक रोक लगाने की आवश्यकता जताई है. लेकिन, उन्हें ये मालूम होना चाहिए कि पूर्ववर्ती यूपीए (UPA) सरकारों की तरह मोदी सरकार सरकारी विज्ञापनों का इस्तेमाल अपना चेहरा चमकाने के लिए नहीं करती. अपितु, सरकारी विज्ञापनों के माध्यम से सरकार अपनी योजनाओं, परामर्शों एवं अन्य महत्वपूर्ण जानकारियों को जनहित में जारी करती है.'

उन्होंने आगे लिखा, 'इस संकट काल में सरकारी विज्ञापनों का औचित्य और बढ़ गया है. क्योंकि सरकारी विज्ञापनों के माध्यम से सरकार इस महामारी से आम लोगों को सतर्क कर रही है. यह भी बता रही है, कि लोगों को क्या-क्या एहतियात बरतना चाहिए.'

बता दें कि सोनिया गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) को कोरोना वायरस महामारी से लड़ने के लिए कई सलाह दी है. इसी क्रम में सोनिया गांधी ने कहा है कि सरकार और पीएसयू दूारा मीडिया कंपनियों को विज्ञापन दिए जाने पर दो साल तक रोक लगा देना चाहिए. साथ ही अधिकारियों-मंत्रियों का विदेशी दौरा रद्द करना चाहिए और पीएम केयर्स फंड की राशि को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत फंड में ट्रांसफर किया जाना चाहिए.