पटना: जेडीयू नेता नरेंद्र सिंह ने साधा सरकार पर निशाना, कहा- 'राष्ट्रपति शासन हो लागू'

नरेंद्र सिंह ने कहा है कि राज्य सरकार पटना में जलजमाव की जांच के लिए कमेटी बनाकर लोगों के आंखो में धूल झोंक रही है. राज्य के विकास आयुक्त अरुण कुमार सिन्हा एक भ्रष्ट अधिकारी है जिनको चेयरमैन बनाया गया है. 

पटना: जेडीयू नेता नरेंद्र सिंह ने साधा सरकार पर निशाना, कहा- 'राष्ट्रपति शासन हो लागू'
जेडीयू नेता नरेंद्र सिंह ने अपनी ही पार्टी की सरकार पर निशाना साधा है.

पटना: बिहार के पूर्व मंत्री और जेडीयू नेता नरेंद्र सिंह ने अपनी ही पार्टी की सरकार पर निशाना साधा है. साथ ही पटना में जलजमाव का ठीकरा सरकार और उसके सिस्टम पर फोड़ा है.
 
नरेंद्र सिंह ने कहा है कि राज्य सरकार पटना में जलजमाव की जांच के लिए कमेटी बनाकर लोगों के आंखो में धूल झोक रही है. राज्य के विकास आयुक्त अरुण कुमार सिन्हा एक भ्रष्ट अधिकारी है जिनको चेयरमैन बनाया गया है. वहीं, आईएएस प्रत्यय अमृत और अमृत लाल मीणा जिन्हें मेंबर बनाया गया है और सरकार इन्हें मेंबर बनाकर आई वास कर रही है. नीतीश कुमार इन्हें भी बर्बाद करेंगे जबकि दोनों अच्छे और ईमानदार व्यक्ति हैं. 

नरेंद्र अरुण कुमार सिन्हा एक घोटालेबाज और कई आरोपों से घिरे पदाधिकारी हैं. प्रत्यय अमृत और अमृत लाल मीणा से अनुरोध करूंगा कि वो इस कमिटी को छोड़ दें और अपनी जान बचाएं. उन्होंने कहा है कि सरकार को प्रति एकड़ किसानों को 25 हजार रुपया देने की घोषणा करनी चाहिए. अभी सरकार जो 6 हजार दे रही है उससे कुछ नहीं होने वाला है.

साथ ही उन्होंने कहा है कि सरकार को भंग कर राष्ट्रपति शासन लागू किया जाना चाहिए. जांच कमिटी से कुछ नतीजा नहीं निकलेगा.