बिहार बाढ़: एनडीआरएफ तैनात, 8 हजार से अधिक लोग सुरक्षित निकाले गए

उन्होंने बताया, "गुरुवार को सारण, गोपालगंज और दरभंगा जिले में बाढ़ राहत एवं बचाव कार्य चलाकर लगभग 400 लोगों को सुरक्षित स्थानों तक पहुंचाया गया. इनमें बच्चे, महिलाएं, बीमार व्यक्ति और गर्भवती महिला शामिल हैं."

बिहार बाढ़: एनडीआरएफ तैनात, 8 हजार से अधिक लोग सुरक्षित निकाले गए
बिहार बाढ़: एनडीआरएफ तैनात, 8 हजार से अधिक लोग सुरक्षित निकाले गए.

पटना: बिहार में बाढ़ आपदा से निपटने में एनडीआरएफ की टीम लगातार राहत एवं बचाव कार्य में जुटी है. बिहटा (पटना) में स्थित 9वीं बटालियन एनडीआरएफ के कमांडेंट विजय सिन्हा ने बताया कि गुरुवार को राज्य आपदा प्रबंधन विभाग की मांग पर पश्चिम चंपारण में तैनात दो टीमों में से एक टीम को सीवान जिले में तैनात कर दिया गया है. 

उन्होंने बताया, "गुरुवार को सारण, गोपालगंज और दरभंगा जिले में बाढ़ राहत एवं बचाव कार्य चलाकर लगभग 400 लोगों को सुरक्षित स्थानों तक पहुंचाया गया. इनमें बच्चे, महिलाएं, बीमार व्यक्ति और गर्भवती महिला शामिल हैं."

कमांडेंट सिन्हा ने आगे बताया, "अब तक बिहार राज्य के विभिन्न जिलों में रेस्क्यू ऑपेरशन चलाकर एनडीआरएफ टीम ने बाढ़ विभीषिका में फंसे 8000 से अधिक लोगों को रेस्क्यू बोटों द्वारा निकालकर सुरक्षित स्थानों तक पहुंचाया है."

उल्लेखनीय है कि एनडीआरएफ की कुल 21 टीमें राज्य के कुल 13 जिलों गोपालगंज, पूर्वी चम्पारण, पश्चिम चम्पारण, मुजफ्फरपुर, सारण, सीवान, दरभंगा, मधुबनी, सुपौल, पटना, अररिया, कटिहार और किशनगंज में अत्याधुनिक बाढ़ बचाव एवं संचार उपकरणों के साथ तैनात हैं.

कमांडेंट विजय सिन्हा ने अलग-अलग घटनाओं का जिक्र करते हुए बताया कि एनडीआरएफ टीमों ने सफल ऑपरेशन चलाकर दो बच्चों की जान बचाई है.

उन्होंने बताया कि सारण जिला के पानपुर प्रखंड में बुधवार शाम को टीम कमांडर शाहबाज आलम के नेतृत्व में एनडीआरएफ की एक टीम ने नदी में डूबते बच्चे की जान बचाई, जबकि पूर्वी चम्पारण जिले में तैनात एनडीआरएफ टीम ने जाटवा गांव में सर्पदंश से पीड़ित बच्चे को तत्काल मदद पहुंचाकर उसे बाढ़ के पानी से निकालकर अस्पताल पहुंचाया.
Input:-IANS