close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार: भारत की जमीन पर हर दिन 50 ट्रक कचड़ा गिरा रहा नेपाल, बता रहा अपनी जमीन

नेपाल की आर्थिक राजधानी से प्रसिद्ध बीरगंज ने प्रतिदिन 50 ट्रेक्टर से ज्यादा कूड़ा कचरा नो मेंस लैंड पर डालना शुरू कर दिया है. इस कूड़े कचरे में घरों, दुकानों के कचरे के साथ साथ हॉस्पिटल के दवाइयों ,सुई ,और अन्य अवशिष्ट पदार्थ शामिल होते है. 

बिहार: भारत की जमीन पर हर दिन 50 ट्रक कचड़ा गिरा रहा नेपाल, बता रहा अपनी जमीन
नो मेन्स लैंड को नेपाल के कर्मचारी नेपाल की जमीन बता रहे हैं.

रक्सौल: भारत-नेपाल सीमा के रक्सौल बॉर्डर के नो मेंस लैंड पर पड़ोसी देश नेपाल ने कचड़ा गिराकर कब्जा करना शुरू कर दिया है. नो मेन्स लैंड को नेपाल के कर्मचारी नेपाल की जमीन बता रहे हैं जबकि भारत की सुरक्षा एजेंसी और प्रशाशन हाथ पर हाथ धरे बैठी है. 

पड़ोसी देश नेपाल ने नो मेंस जमीन पर कब्जा करने की तरीका भी नयाब निकाला है. यहां दिन के उजाले में बीरगंज उप महानगरपालिका के कर्मचारी के देख रेख में प्रतिदिन सैकड़ो ट्रैलर कचरा नो मेंस लैंड पर डाला जा रहा है. नेपाल की आर्थिक राजधानी से प्रसिद्ध बीरगंज ने प्रतिदिन 50 ट्रेक्टर से ज्यादा कूड़ा कचरा नो मेंस लैंड पर डालना शुरू कर दिया है. इस कूड़े कचरे में घरों, दुकानों के कचरे के साथ साथ हॉस्पिटल के दवाइयों ,सुई ,और अन्य अवशिष्ट पदार्थ शामिल होते है. नो मेंस लैंड को अपना हिस्सा बताकर इस तरह के सभी कचरे को बीरगंज उपनागरपालिक रक्सौल बॉर्डर के नोमेन्स लैंड पर मैत्री पुल के समीप सरिसवा नदी के किनारे डालता है.

नेपाल के कचड़े से सरिसवा नदी भी अब अपना अस्तित्व खोने लगा है. जिससे भविष्य में इलाके में जल संकट भी हो सकता है. अंतराष्ट्रीय जलवायु बोर्ड प्रबंधन के नियमानुसार शहर के कूड़ा कचरा को शहर से तीन किलोमीटर से दूर कचरा डम्प करना है. हद तो तब हो गई जब बीरगंज नगरपालिका के कर्मचारी ने नो मैन्स लैण्ड एरिया को नेपाल के कब्जजे और हिस्सा बताया. और कहा ये एरिया नेपाल का है इसलिए कचरा गिरा रहे है.

जबकि दो देशों के बीच सीमा संधि के अनुसार बॉर्डर पिलर से दोनों साइड 33 फिट नो मेंस लैंड एरिया होता है. जिसपर दोनो देश मे से कोई भी  देश उस नो मैन्स लैंड को उपयोग नही कर सकता है. नियमानुसार आम जनता को भी नो मेंस लैंड पर आवागमन वर्जित रहता है.बस सिमा सुरक्षा फोर्स बॉर्डर पिलर के देख रेख में पेट्रोलिंग कर सकते है.

लेकिन नेपाल देश ने सभी नियमो को ताक पर रख कर बीरगंज शहर के कचरा को नो मैन्स पर डम्प करना शुरू कर दिया है. इस सबन्ध में रक्सौल के एसडीओ अमित कुमार ने कहा कि हमने भी बॉर्डर का मुआयना किया है.नेपाल नो मेंस लैंड पर कूड़ा कचरा गिरा रहा है. इस समस्या से जिला अधिकारी को अवगत करा दिया गया है. वीडियो और फोटो के साथ विस्तृत रिपोर्ट बना कर जिला अधिकारी को सौंपा जाएगा और इस पर रोक लगाई जाएगी.